संयुक्त किसान मोर्चा से एक महीने के लिए निष्कासित हुए योगेंद्र यादव, मांगी माफी

योगेंद्र यादव ने निष्कासन के बाद माफी मांग ली है, उन्होंने कहा है कि वे जल्द ही इस संबंध में सार्वजनिक तौर पर माफी मांग लेंगे

Updated: Oct 22, 2021, 09:12 AM IST

संयुक्त किसान मोर्चा से एक महीने के लिए निष्कासित हुए योगेंद्र यादव, मांगी माफी
Photo Courtesy: ANI

नई दिल्ली। संयुक्त किसान मोर्चा ने योगेंद्र यादव पर बड़ी कार्रवाई की है। योगेंद्र यादव को संयुक्त किसान मोर्चा से एक महीने के लिए निष्कासित कर दिया गया है। संयुक्त किसान मोर्चा से निष्कासित किए जाने के बाद योगेंद्र यादव ने माफी मांग ली है। 

गुरुवार को संयुक्त किसान मोर्चा ने बैठक की, जिसमें उन्होंने योगेंद्र यादव को निष्कासित करने का फैसला किया। इस फैसले के कारण योगेंद्र यादव एक महीने तक संयुक्त किसान मोर्चा के किसी भी कार्यक्रम में हिस्सा नहीं ले पाएंगे। 

क्यों हुई योगेंद्र यादव पर कार्रवाई 

योगेंद्र यादव पर यह कार्रवाई लखीमपुर खीरी नरसंहार में मारे गए भाजपा कार्यकर्ता शुभम मिश्रा के घर जाने के बाद हुई है। 12 अक्टूबर को योगेंद्र यादव मृतक किसानों की अंतिम अरदास में शामिल होने लखीमपुर गए हुए थे, इसके बाद वे बीजेपी कार्यकर्ता शुभम मिश्रा के घर भी चले गए थे। वहां से लौटकर योगेंद्र यादव ने इस सिलसिले में एक लेख भी लिखा था, जिसमें उन्होंने अपना अनुभव साझा किया था।

योगेंद्र यादव के इस कदम से मोर्चा के कई किसान नाराज चल रहे थे। विशेषकर पंजाब के किसानों की यह मांग थी कि योगेंद्र यादव पर कार्रवाई की जानी चाहिए। जिसके परिणामस्वरूप योगेंद्र यादव को निष्कासित कर दिया गया। 

हालांकि योगेंद्र यादव ने अपने निष्कासन को स्वीकारते हुए माफी भी मांग ली है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक योगेंद्र यादव जल्द ही सार्वजनिक तौर पर भी माफी मांग लेंगे।