CWG 2022: पीवी सिंधु ने रचा इतिहास, आखिरी दिन बैडमिंटन में भारत को दिलाया गोल्ड

पीवी सिंधु ने फाइनल मुकाबले में कनाडा की मिशेल लियू को उन्होंने 21-15, 21- 13 से मात देकर अपना पहला कॉमनवेल्थ गेम्स गोल्ड मेडल जीता।

Updated: Aug 08, 2022, 04:18 PM IST

CWG 2022: पीवी सिंधु ने रचा इतिहास, आखिरी दिन बैडमिंटन में भारत को दिलाया गोल्ड

बर्मिंघम। कॉमनवेल्थ गेम्स में भारतीय प्लेयर्स बहुत ही शानदार खेल दिखा रहे हैं। ओलंपिक में भारत के लिए दो मेडल जीतने वाली स्टार बैडमिंटन प्लेयर पीवी सिंधु ने भी कमाल का खेल दिखाया। CWG के आखिरी दिन सिंधु ने भारत को बैडमिंटन में गोल्ड मेडल दिला दिया है। 

दुनिया की सातवें नंबर की खिलाड़ी सिंधु ने दुनिया की 13वें नंबर की मिशेल को 21-15, 21-13 से हराकर 2014 ग्लास्गो राष्ट्रमंडल खेलों के सेमीफाइनल में उनके खिलाफ हार का बदला भी चुकता कर दिया। सिंधु ने 2014 में कांस्य पदक जीता था, जबकि मिशेल स्वर्ण पदक जीतने में सफल रहीं थी। बैडमिंटन में भारत का यह तीसरा मेडल है। इससे पहले पुरुष एकल में किदांबी श्रीकांत और महिला युगल में ट्रेसा जॉली और गायत्री गोपीचंद ब्रॉन्ज मेडल जीत चुकी है।

यह भी पढ़ें: बिहार में टूट सकता है बीजेपी-जेडीयू गठबंधन, RJD के साथ सरकार बनाने की अटकलें, नीतीश ने सोनिया गांधी से की बात

इस पूरे मैच में पीवी सिंधु (PV Sindhu) ने कमाल का खेल दिखाया। उन्होंने कनाडा की मिशेल ली को टिकने का मौका ही नहीं दिया। पहला गेम उन्होंने 21-15 अपने नाम किया, तो दूसरा गेम 21-13 से जीता। सिंधु ने मैच पर अपनी पकड़ बनाए रखी। दूसरे गेम में पीवी सिंधु ने धमाकेदार खेल दिखाया और कनाडा की खिलाड़ी ली की एक ना चलने दी। सिंधु ने दूसरा गेम 21-13 से जीत गोल्ड मेडल जीत लिया। दूसरे गेम में सिंधु ने ने दिखाया कि वो इतनी बड़ी खिलाड़ी क्यों हैं।

सिंधु की इस जीत से भारत के स्वर्ण पदकों की संख्या 19 पहुंच गई है। भारत ने कॉमनवेल्थ गेम्स में अबतक कुल 56 मेडल जीत लिए हैं।