अफ्रीकी सरजमीं पर पहली टेस्ट जीत से लेकर सेंचुरियन फतेह तक, दोनों जीत में क्या है राहुल द्रविड़ कनेक्शन

भारतीय टीम ने दक्षिण अफ्रीका को पहला टेस्ट मुकाबला जोहांसबर्ग में जीता था, यह जीत भारतीय टीम ने राहुल द्रविड़ की ही कप्तानी में हासिल की थी

Publish: Dec 30, 2021, 07:40 PM IST

अफ्रीकी सरजमीं पर पहली टेस्ट जीत से लेकर सेंचुरियन फतेह तक, दोनों जीत में क्या है राहुल द्रविड़ कनेक्शन

नई दिल्ली। भारतीय टीम ने सेंचुरियन में ऐतिहासिक जीत कर इस मैदान पर जीत दर्ज करने वाली पहली एशियाई टीम का तमगा हासिल कर लिया। दक्षिण अफ्रीका की सरजमीं पर भारतीय टीम ने अब तक केवल चार टेस्ट मुकाबले ही जीते हैं। लेकिन अफ्रीकी सरजमीं पर पहली टेस्ट जीत और सेंचुरियन में हासिल हुई पहली टेस्ट जीत में राहुल द्रविड़ कनेक्शन है जो कि भारतीय टीम का साथ जुड़ा हुआ है। 

दरअसल भारतीय टीम ने दक्षिण अफ्रीका की सरजमीं पर अपना पहला टेस्ट मुकाबला राहुल द्रविड़ की कप्तानी में ही जीता था। यह जीत भारतीय टीम ने जोहांसबर्ग में 2006 में हासिल की थी, और अब बतौर कोच भारतीय टीम, राहुल द्रविड़ के पहले मुकाबले में सेंचुरियन पर भारतीय टीम की जीत ने सीरीज जीतने की उम्मीदों को नया आयाम दे दिया है।

2006 में भारतीय टीम दक्षिण अफ्रीका के दौरे पर पांच वनडे सीरीज और तीन टेस्ट मैच की सीरीज खेलने गई थी। इसी दौरे पर भारतीय टीम ने इकलौता टी ट्वेंटी मैच भी खेला था। जो कि भारतीय टीम का पहला अंतर्राष्ट्रीय टी ट्वेंटी मुकाबला था। हालांकि एकदिवसीय सीरीज में कप्तान राहुल द्रविड़ चोटिल हो गए थे, और टीम की कप्तानी तत्कालीन उपकप्तान वीरेंद्र सहवाग को सौंपी गई थी। द्रविड़ के चोटिल होने के बाद वीवीएस लक्ष्मण लम्बे अरसे के बाद भारतीय टीम का हिस्सा बने थे। भारतीय टीम ने एकदिवसीय सीरीज 0-4 से गंवा दी थी।

यह भी पढ़ें : ये अटैक दुनिया के किसी भी कोने में 20 विकेट चटका सकती है, सेंचुरियन में ऐतिहासिक जीत पर सचिन ने की तारीफ

दक्षिण अफ्रीका दौरा भारतीय टीम के लिए उतना खास नहीं रहा था। दौरे पर भारतीय टीम ने सिर्फ दो मैचों में ही जीत दर्ज की था। वीरेंद्र सहवाग की कप्तानी में भारतीय टीम ने एक लो स्कोरिंग टी ट्वेंटी मैच में जीत दर्ज की थी। और इसके बाद जोहांसबर्ग में पहला टेस्ट मैच अपने नाम किया था। जोहांसबर्ग में ऐतिहासिक जीत मिलने के साथ साथ यह दौरा भारतीय टीम के दो खिलाड़ियों के लिए बेहद अच्छा सिद्ध रहा था। तेज़ गेंदबाज एस श्रीसंत ने पूरी सीरीज में सबसे अधिक 18 विकेट चटकाए थे। जबकि लम्बे अरसे बाद भारतीय टीम में वापसी करने वाले सौरव गांगुली ने भारतीय टीम की तरफ से सबसे अधिक 214 रन बनाए थे। 

यह भी पढ़ें : टीम इंडिया की ऐतिहासिक जीत, सेंचुरियन में दक्षिण अफ्रीका को पहली बार हराया

दक्षिण अफ्रीका के बुरे दौरे के बाद भारतीय टीम ने वेस्ट इंडीज और श्रीलंका के साथ घरेलू सीरीज खेली। दोनों ही सीरीज भारतीय टीम के नाम रही। इसके ठीक बाद टीम इंडिया को वर्ल्ड कप के लिए वेस्ट इंडीज जाना था। जहां भारतीय टीम पहले राउंड में ही वर्ल्ड कप से बाहर हो गई।