शाजापुर: कर्ज में डूबे किसान ने की आत्महत्या, बेटी ने भी जहर खाकर मौत को गले लगाया 

मध्य प्रदेश में एक बार फिर आया किसान आत्महत्या का मामला, शाजापुर में कर्ज से परेशान किसान ने लगाई फांसी, पिता की मौत के बाद बेटी ने भी खाया जहर

Updated: Sep 24, 2021, 03:39 PM IST

शाजापुर: कर्ज में डूबे किसान ने की आत्महत्या, बेटी ने भी जहर खाकर मौत को गले लगाया 
Photo Courtesy: Asianet

शाजापुर। मध्य प्रदेश के शाजापुर में कर्ज के बोझ तले डूबे किसान ने आत्महत्या कर ली है। पिता की मौत की खबर जब उसकी 17 वर्षीय पुत्री को लगी तब उसने भी जहर खाकर मौत को गले लगा लिया। बताया जा रहा है कि किसान परिवार भयंकर आर्थिक परेशानियों से जूझ रहा था।

मामला शाजापुर जिले के सांपखेड़ा गांव का है, जहां गरीबी से तंग आकर 41 वर्षीय ईश्वर सिंह ने सल्फास जहर खाकर आत्महत्या कर ली। स्थानीय लोगों के मुताबिक मृतक किसान जब बाजार से जहर लेकर आया तब अपनी पत्नी से भी पूछा कि क्या वो जहर खाएगी? पत्नी के मना करने पर उसने बिना किसी को बताए जहर खा लिया और पुड़िया घर में रखकर चला गया।

यह भी पढ़ें: खरगोन: कर्ज में डूबे किसान ने की आत्महत्या, फसल बर्बाद होने से था परेशान, खेत में पेड़ से लगाई फांसी

घर से थोड़ी दूर पर ही किसान बेहोश होकर गिर गया। ग्रामीणों ने जब उसे देखा तबतक उसकी मौत हो गई थी। इस बात की जानकारी जैसे ही मृतक के घरवालों को मिली, उसकी 17 वर्षीय बेटी खुशबू ने भी जहर खा लिया। मृतक किसान की पत्नी भी जहर खाने वाली थी, लेकिन उसके बेटे ने उसे रोक दिया। उधर जहर खाने के बाद खुशबू की भी हालत खराब होने लगी। परिजन जब उसे लेकर अस्पताल पहुंचे तो डॉक्टरों ने उसे भी मृत घोषित कर दिया।

बताया जा रहा है कि मृतक ईश्वर सिंह अपने ही गांव में जमीन किराए पर लेकर सब्जियों की खेती करता था। मामले की जांच कर रहे कोतवाली थाना प्रभारी उदय सिंह ने बताया की शुरुआती जांच में पता चला है कि किसान कर्ज में डूबा हुआ था और आर्थिक तंगी के चलते उसने आत्महत्या की। मामले पर पूर्व सीएम कमलनाथ ने शिवराज सरकार को निशाने पर लिया है। पीसीसी चीफ ने कहा है कि पता नहीं चुनावी क्षेत्र में जनदर्शन में लगी शिवराज सरकार किसानों के साथ न्याय करेगी।