बिहार में अग्निपथ योजना के खिलाफ बवाल जारी, छात्रों ने फूंकी कई ट्रेनें, पुलिस ने दागे आंसू गैस के गोले

अग्निपथ योजना का बिहार में बड़े स्तर पर लगातार दूसरे दिन विरोध देखने को मिल रहा है, बिहार के जहानाबाद, आरा, छपरा, नवादा बक्सर समेत कई जिलों में छात्र उग्र प्रदर्शन कर रहे हैं, कई जगहों पर छात्रों ने ट्रेनों में आग लगा दी है

Updated: Jun 16, 2022, 12:19 PM IST

बिहार में अग्निपथ योजना के खिलाफ बवाल जारी, छात्रों ने फूंकी कई ट्रेनें, पुलिस ने दागे आंसू गैस के गोले

पटना। सेना में भर्ती के लिए लाई गई अग्निपथ योजना के खिलाफ बिहार में छात्रों का संग्राम जारी है। आज दूसरे दिन बिहार के दर्जनों जिलों में छात्रों का व्यापक विरोध देखने को मिला। कई जगहों पर छात्रों की भीड़ उग्र हो गई और उन्होंने जमकर उत्पात भी मचाया। विरोध कर रहे छात्रों ने केंद्र सरकार को चेतावनी देते हुए कहा है कि तत्काल इस योजना को वापस लिया जाए।

बिहार के जहानाबाद में छात्रों ने जमकर बवाल किया। छात्रों ने पुलिस पर पथराव के साथ सड़क पर आगजनी कर अपना विरोध दर्ज कराया। इस प्रदर्शन में एसपीडीओं बाल-बाल बच गए। इसके साथ बिहार के पटना, आरा, छपरा, बक्सर, मुजफ्फरपुर, बेगूसराय और नवादा में भी छात्रों ने विरोध प्रदर्शन किया।

छात्रों का विरोध प्रदर्शन अब उग्र हो गया है। प्रदर्शनकारियों ने छपरा और कैमूर में पैसेंजर ट्रेन में आग लगा दी। छपरा जंक्शन पर करीब 12 गाड़ियों में तोड़फोड़ की गई। छपरा में ही 3 ट्रेनों को फूंकने की खबर है। पूरे स्टेशन अफरातफरी का माहौल है। भभुआ स्टेशन पर भी छात्रों ने ट्रेनों में आग लगा दी है।

उधर आरा में भी प्रदर्शन के कारण रेल यातायात पूरी तरह से ठप हो गया है। आरा में पुलिस को उपद्रवियों पर काबू पाने के लिए आंसू गैस के गोले दागने पड़े।बक्सर में छात्रों ने देश के सबसे मुख्य रेल मार्गों में से एक दिल्ली- हावड़ा रेलवे ट्रैक को जाम कर दिया है। जानकरी के मुताबिक करीब 150 से अधिक युवा बक्सर में रेलवे ट्रैक पर बैठे हुए हैं। इससे मार्ग पर चलने वाली कई मुख्य ट्रेनें भी प्रभावित हुई है।

छपरा और मुंगेर में सड़क पर आगजनी के बाद जमकर प्रदर्शन हो रहा है। वारिसलीगंज की विधायक अरुणा देवी पर नवादा में प्रदर्शनकारियों ने हमला कर दिया। हमले के दौरान विधायक गाड़ी में ही मौजूद थीं। वो बाल-बाल बच गईं। उधर नवादा के प्रजातंत्र चौक और रेलवे स्टेशन के पास प्रदर्शनकारियों द्वारा सड़क जाम कर जमकर नारेबाजी की गई। इसके बाद कुछ आक्रोशित छात्रों ने नवादा स्टेशन पर पहुंचकर वहां ट्रैक पर लगे नट बोल्ट को भी खोल दिया है।

 

बिहार में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने छात्रों के प्रदर्शन को लेकर ट्वीट किया, 'अगर देश के सबसे बड़े नियोक्ताओं भारतीय रेलवे व सेना में भी नौकरियाँ ठेके एवं सिविल सेवा में लेटरल एंट्री के नाम पर दी जाने लगेंगी तो युवा क्या करेंगे? क्या युवा पढ़ाई और 4 वर्षों की संविदा नौकरी भविष्य में BJP के पूँजीपति मित्रों के व्यावसायिक ठिकानों की रखवाली के लिए करेंगे?'