Anu Tandon: कांग्रेस छोड़कर समाजवादी पार्टी में शामिल हुईं पूर्व सांसद अनु टंडन

लगभग 15 साल गुज़ारने के बाद अनु टंडन ने चार दिन पहले ही कांग्रेस से दिया था इस्तीफा, अब कर रही हैं अखिलेश यादव की तारीफ

Updated: Nov 02, 2020, 08:45 PM IST

Anu Tandon: कांग्रेस छोड़कर समाजवादी पार्टी में शामिल हुईं पूर्व सांसद अनु टंडन
Photo Courtesy : ABStarnews

लखनऊ। उत्तरप्रदेश कांग्रेस को झटका देने के बाद उन्नाव की पूर्व सांसद अनु टंडन ने समाजवादी पार्टी का दामन थाम लिया है। टंडन ने समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव की मौजूदगी में पार्टी का दामन थामा है। पार्टी जॉइन करने के बाद अनु टंडन ने कहा कि बीजेपी को रोकने की क्षमता सिर्फ अखिलेश यादव में ही है।

समाजवादी पार्टी की सदस्यता ग्रहण करने के बाद टंडन ने पार्टी मुख्यालय में पत्रकारों से बातचीत के दौरान कहा, 'मैं कांग्रेस में 12-15 साल रही। मुझे कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी से पूर्ण स्नेह मिला। हालांकि प्रियंका गांधी वाड्रा के साथ काम करने का ज्यादा मौका नहीं मिला। वह सक्रिय राजनीति में अभी अभी आयी हैं। अपनों की खातिर भावनाओं को दरकिनार कर सपा के साथ काम करने का फैसला किया।' इस दौरान अखिलेश यादव ने कहा कि सीएम रहने के दौरान ही मुझे अनु टंडन की लोकप्रियता का अहसास हो गया था। उन्नाव के विकास में इनका अहम योगदान है और मैं तहेदिल से इनका पार्टी में स्वागत करता हूं।

 

 

काबिल नहीं है पार्टी का प्रदेश नेतृत्व

टंडन ने इस दौरान उत्तरप्रदेश कांग्रेस के नेतृत्व को नाकाबिल करार दिया। उन्होंने कहा, 'वर्ष 2019 से मुझे महसूस हुआ कि कांग्रेस आगे नहीं बढ़ रही है। पार्टी का मौजूदा प्रदेश नेतृत्व काबिल नहीं है। मैं सपा के शासनकाल में अखिलेश यादव के कामकाज से बेहद  प्रभावित रही हूं। अखिलेश में ही बीजेपी को रोकने की क्षमता है। इसी वजह से मैने अखिलेश के नेतृत्व में समाजवादी पार्टी की विचारधारा को आगे बढ़ाने का फैसला लिया है।' 

और पढ़ें: मायावती ने कहा राजनीति से संन्यास ले लूंगी, लेकिन BJP के साथ चुनाव नहीं लड़ूंगी

चार दिन पहले ही छोड़ी थी कांग्रेस

बता दें कि अनु टंडन ने बीते 29 अक्टूबर को ही कांग्रेस की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा दे दिया था। उन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया को इस्तीफा सौंपने की जानकारी ट्वीटर के माध्यम से दी थी।