लखीमपुर नरसंहार से भड़के वरुण गांधी, ट्विटर बायो से बीजेपी शब्द हटाया, बोले- यह माफी के लायक नहीं

उत्तर प्रदेश लखीमपुर खीरी में केंद्रीय मंत्री के बिगड़ैल बेटे ने किसानों को कुचला, देशभर के किसानों में रोष, बीजेपी सांसद वरुण गांधी ने किया बीजेपी से किनारा, सीएम योगी को बोले- ये अक्षम्य है

Updated: Oct 04, 2021, 06:18 PM IST

लखीमपुर नरसंहार से भड़के वरुण गांधी, ट्विटर बायो से बीजेपी शब्द हटाया, बोले- यह माफी के लायक नहीं
Photo Courtesy : NDTV

लखीमपुर खीरी। लखीमपुर खीरी किसान नरसंहार की घटना ने पूरे देश को आक्रोशित कर दिया। मोदी कैबिनेट के मंत्री पुत्र द्वारा किसानों को कुचलकर मार डालने की घटना के बाद अब बीजेपी में फूट पड़ने की संभावना है। दिग्गज नेता व बीजेपी सांसद वरुण गांधी ने इसकी शुरुआत कर दी है। वरुण गांधी ने अपने ट्विटर बायो से बीजेपी शब्द को हटा लिया है। इतना ही नहीं इंदिरा गांधी के पोते वरुण ने सीएम योगी आदित्यनाथ को पत्र लिखकर कहा है कि ये घटना माफी के लायक नहीं है।

वरुण गांधी ने आज मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को पत्र लिखकर कहा कि किसानों को निर्दयतापूर्वक कुचलने की जो हृदय विदारक घटना हुई है, उससे सारे देश के नागरिकों में एक पीड़ा और रोष है। उन्होंने लिखा, 'एक दिन पहले ही देश ने अंहिसा के पुजारी महात्मा गाँधी जी की जयंती मनाई थी। अगले ही दिन हमारे अन्नदाताओं की जिस तरह से हत्या की गई वह किसी भी सभ्य समाज में अक्षम्य है।' 

वरुण गांधी ने मृतक किसानों को राहत देने के लिए परिजनों को 1 करोड़ रुपए मुआवजे की मांग की है। वरुण गांधी ने योगी को संबोधित पत्र में लिखा है कि, 'किसान भाई पीड़ित हैं और अपने लोकतांत्रिक अधिकारों के तहत विरोध प्रर्दशन कर रहें हैं। हमें उनके साथ संयम एवं धैर्य के साथ बर्ताव करना चाहिए। हमें हर हाल में अपने किसानों के साथ केवल गाँधीवादी व लोकतांत्रिक तरीके से संवेदनशीलता से पेश आना चाहिए। इस घटना में शहीद हुए किसान भाईयों को श्रद्धांजलि देते हुए मैं उनके परिजनों को एक-एक करोड़ रूपये का मुआवजा देने की मांग करता हूं।'

यह भी पढ़ें: प्रियंका, तुम पीछे नहीं हटोगी, हम किसानों को जिता कर रहेंगे, राहुल गांधी ने बढ़ाया बहन का हौसला

पीलीभीत सांसद ने आगे लिखा है कि इस घटना में संलिप्त सभी संदिग्धों को तत्काल चिन्हित कर आईपीसी की धारा 302 के तहत सख्त से सख्त कार्रवाई की जाए। उन्होंने यह भी कहा है कि सर्वोच्च न्यायालय की निगरानी में सीबीआई द्वारा समयबद्ध सीमा में जांच करवाकर दोषियों को सजा दिलवाना ज्यादा उपयुक्त होगा। गांधी ने यह भी सुनिश्चित करने को कहा है कि भविष्य में किसानों के साथ इस प्रकार का कोई भी अन्याय या अन्य ज्यादती ना हो।

यह भी पढ़ें: मंत्री के बेटे के खिलाफ हत्या का मुकदमा, रिटायर्ड जज करेंगे मामले की जांच, किसानों और प्रशासन के बीच सुलह

वरुण गांधी ने ट्विटर बायो से बीजेपी शब्द को ऐसे समय में हटाया है जब लखीमपुर खीरी में पीड़ित परिजनों का दर्द बांटने जा रही प्रियंका गांधी के साथ उत्तर प्रदेश पुलिस ने न सिर्फ दुर्व्यवहार और बदसलूकी की, बल्कि पिछले 10 घंटे से प्रियंका को कैद कर रखा है। बताया जा रहा है कि प्रियंका ने आज से खाना-पानी छोड़ दिया है और जेल में सत्याग्रह कर रही हैं। प्रियंका ने स्पष्ट कहा है कि वे पीड़ित परिजनों से मिले बिना वापस नहीं जाएंगी।