छत्तीसगढ़ के कांकेर में घर की दीवार ढही, तीन मासूम सहित पांच लोगों की दर्दनाक मौत

लगातार हो रही मूसलाधार बारिश की वजह से कांकेर जिले के पखांजूर इलाके में घर की दीवार ढहने से 5 लोगों की मौत हो गई है। मृतकों में माता-पिता और तीन मासूम बच्चियां शामिल हैं।

Updated: Aug 15, 2022, 05:09 PM IST

छत्तीसगढ़ के कांकेर में घर की दीवार ढही, तीन मासूम सहित पांच लोगों की दर्दनाक मौत

कांकेर। छत्तीसगढ़ के कांकेर जिले में एक दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है। पिछले 2 दिनों से लगातार हो रही मूसलाधार बारिश की वजह से जिले के पखांजूर इलाके में घर की दीवार ढहने से 5 लोगों की मौत हो गई है। मृतकों में माता-पिता और तीन मासूम बच्चियां शामिल हैं। सूचना मिलने के बाद कांकेर कलेक्टर और एसपी के साथ जिला प्रशासन की पूरी टीम घटनास्थल के लिए निकली लेकिन मौके पर नहीं पहुंच सकी।

दरअसल, लगातार बारिश की वजह से नदी-नाले उफान पर हैं और घटनास्थल तक पहुंचने के लिए रास्ते मे पड़ने वाला कोडनार नदी में भी पुल के ऊपर से पानी बह रहा है। नतीजतन पूरा प्रशासनिक अमला नदी के इस पार ही फंसा हुआ है। कलेक्टर ने राज्य सरकार से बात कर हेलीकॉप्टर की मांग की है। ताकि मौके पर पहुंच दीवार ढहने से मलबे में फंसे सभी मृतकों को बाहर निकाला जा सके।

यह भी पढ़ें: ओडिशा के नबरंगपुर में तीन आदिवासी गांवों में घरों को जलाया, खेतों में लगी फसल को भी किया नष्ट

कांकेर कलेक्टर डॉ प्रियंका शुक्ला ने बताया कि घटना रविवार देर रात की है जब भारी बारिश की वजह से पखांजुर के सेक्टर पी व्ही गांव 110 में एक मिट्टी की मकान की दीवार ढह गई। घटना के वक्त घर मे 3 बच्चियां और माता पिता सोये हुए थे और मलबे में दबकर सभी की मौके पर ही मौत हो गयी। कांकेर मुख्यालय से पखांजुर के रास्ते पर परलकोट के पास नदी का पानी लगभग 5 फिट पुल के ऊपर से बह रहा है। जिसके चलते प्रशासन की टीम घटनास्थल तक नही पहुंच पायी है।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने दीवार ढहने से परिमल मलिक एवं उसकी पत्नी और तीन बच्चों की मृत्यु की घटना पर गहरा दुःख व्यक्त किया है। उन्होंने जिला प्रशासन कांकेर को पीड़ित परिवार के परिजनों को तत्काल सहायता प्रदान करने के निर्देश दिये हैं।