म्यांमार में हिंसक झड़प, विद्रोहियों ने 30 जुंटा सैनिकों को मार गिराया

म्यांमार के सागाईंग क्षेत्र में सेना और विद्रोही समूहों के बीच हुई हिंसक झड़प, विद्रोहियों ने 30 जुंटा सैनिकों को मार गिराया, पीडीएफ ने की पुष्टि

Updated: Oct 13, 2021, 03:39 PM IST

म्यांमार में हिंसक झड़प, विद्रोहियों ने 30 जुंटा सैनिकों को मार गिराया
Photo Courtesy: ABP

बर्मा। म्यांमार में तख्तापलट के बाद सेना और विद्रोहियों के बीच संघर्ष लगातार जारी है। जानकारी मिली है कि विद्रोहियों ने 30 जुंटा सैनिकों को मार गिराया है। पीपुल्स डिफेंस फोर्स (पीडीएफ) ने सगाईंग इलाके में हुई इस झड़प की पुष्टि करते हुए बताया है कि एक आर्मी कमांडर समेत कम से कम 30 सैनिक मारे गए हैं।

न्यूज संस्था रेडियो फ्री एशिया ने पीडीएफ के हवाले से खबर दी है कि यह झड़प तब हुई, जब जुंटा सैनिकों ने सगाईंग इलाके में विद्रोहियों के खात्मे के लिए अभियान शुरू किया था। पीडीएफ के मुताबिक सोमवार सुबह पेल टाउनशिप के बाहर बारूदी सुरंगों में भयानक विस्फोट हुआ। इस एक कमांडर सहित कम से कम 30 सरकारी सैनिक मारे गए।

यह भी पढ़ें: मंगल ग्रह पर जीवन के संकेत, सालों पहले आई थी भीषण बाढ़, नासा के रोवर ने भेजी प्राचीन झील की तस्वीर

दरअसल, इसी साल एक फरवरी को म्यांमार में सेना ने तख्तापलट कर दिया था। म्यांमार सेना के जनरल मिंग आंग हलिंग के नेतृत्व में सरकार को बर्खास्त कर दिया गया था और जनरल मिंग ने 1 साल के आपातकाल की घोषणा कर दी। इसके बाद वहां के लोगों ने बड़े स्तर पर विरोध प्रदर्शन शुरू कर दिया।

म्यांमार के लोगों का विरोध को दबाने के लिए सेना ने हिंसक रुख अख्तियार कर लिया जिसके बाद विद्रोहियों और सेना के बीच खूनी संघर्ष जारी है। असिस्टेंस एसोसिएशन फॉर पॉलिटिकल प्रिजनर्स (AAPP) की रिपोर्ट के अनुसार तख्तापलट के बाद से अबतक सेना ने 7,200 से ज्यादा लोगों को गिरफ्तार किया है। बीते 8 महीने में 1,167 नागरिकों की मौत हो चुकी है।