धर्मांतरण का दावा कर बजरंग दल ने किया स्कूल पर पथराव, बाल बाल बचे स्कूल में परीक्षा दे रहे छात्र

मध्य प्रदेश के विदिशा जिले के गंज बासौदा का मामला, बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने कुछ स्थानीय लोगों के साथ मिलकर सेंट जोसेफ स्कूल पर हमला बोल दिया, स्कूल प्रशासन ने स्थानीय पुलिस पर सुरक्षा के पुख्ते इंतजाम न करने का आरोप लगाया है

Publish: Dec 07, 2021, 08:33 AM IST

धर्मांतरण का दावा कर बजरंग दल ने किया स्कूल पर पथराव, बाल बाल बचे स्कूल में परीक्षा दे रहे छात्र
Photo Courtesy: oneindia

विदिशा। मध्य प्रदेश के विदिशा में कट्टर हिंदू संगठन बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने एक स्कूल पर पथराव कर दिया। बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने स्थानीय लोगों के साथ मिलकर स्कूल पर लगातार पत्थरबाजी की। उपद्रवियों ने स्कूल प्रशासन पर आठ बच्चों का धर्मांतरण कराने का आरोप लगाया है। 

उपद्रवियों ने यह बवाल विदिशा जिले के गंज बासौदा शहर स्थित सेंट जोसेफ स्कूल में मचाया। जिस वक्त उपद्रवी स्कूल को अपना शिकार बना रहे थे, उस दौरान स्कूल में छात्र गणित की परीक्षा दे रहे थे। अचानक हुए इस उपद्रव के कारण परीक्षा दे रहे छात्र सहम गए। 

परीक्षा देने वाले एक छात्र ने मीडिया से कहा कि पथराव के कारण छात्रों की एकाग्रता भंग हुई। सभी छात्र इस हमले से डर गए थे। इसलिए गणित की परीक्षा दोबारा आयोजित की जानी चाहिए। वहीं सेंट जोसेफ स्कूल के मैनेजर ब्रदर एंटनी का भी एक बयान मीडिया में सामने आया है। जिसमें उन्होंने बजरंग दल के धर्मांतरण के दावों को खारिज किया है। इसके साथ ही उन्होंने स्कूल में मचाए गए उपद्रव में पुलिस की भूमिका पर भी सवाल उठाए हैं। 

स्कूल के मैनेजर ने मीडिया को बताया कि जिन आठ बच्चों के धर्मांतरण का दावा किया गया है, वे नाम स्कूल में पढ़ने वाले बच्चों के नामों से मेल तक नहीं खाते हैं। इसके साथ ही उन्होंने पुलिस की भूमिका पर सवाल उठाते हुए कहा कि स्कूल पर होने वाली हमले की सूचना एक दिन पहले ही समाचार पत्रों के माध्यम से मिल गई थी। जिसके बाद पुलिस को सूचित कर दिया गया था। लेकिन इसके बावजूद पुलिस ने स्कूल में सुरक्षा का पुख्ता इंतजाम नहीं किया। जिस वजह से स्कूल में इतनी बड़ी घटना हो गई। 

वहीं बजरंग दल के एक स्थानीय नेता नीलेश अग्रवाल का भी एक बयान मीडिया में सामने आया है। जिसमें कट्टर हिंदू संगठन के नेता ने स्कूल में कथित धर्मांतरण मामले की जांच की मांग करते हुए कहा है कि अगर धर्मांतरण में स्कूल प्रशासन संलिप्त पाया जाता है तो स्कूल पर बुलडोजर चलाकर उसे ध्वस्त कर देना चाहिए। 

एसडीएम रोशन राय ने मीडिया से कहा कि स्कूल परिसर में उपद्रव की जांच की जाएगी। इसके साथ ही एसडीएम ने यह भी बताया गया कि स्कूल प्रशासन पर लगे धर्मांतरण के आरोपों की जांच भी शुरू कर दी गई है। इस मामले में स्कूल प्रशासन से पूछताछ की जाएगी।