भिंड में महिला मजदूरों से दबंगई, युवकों ने दौड़ा-दौड़ा कर पीटा, पुलिस पर शिकायत दर्ज नहीं करने का आरोप

जयपुर से भिंड लौट रहे प्रवासी महिला मजदूरों की पिटाई, सीट में बैठने को लेकर हुआ था विवाद, दबंगों ने गांव से लठैत बुलाकर परिवार वालों को भी पीटा, आला अधिकारी से शिकायत के बाद थाने में दर्ज हुई शिकायत

Updated: Apr 22, 2021, 08:16 PM IST

भिंड में महिला मजदूरों से दबंगई, युवकों ने दौड़ा-दौड़ा कर पीटा, पुलिस पर शिकायत दर्ज नहीं करने का आरोप
Photo courtesy: Bhaskar

भिंड। लहार में प्रवासी मजदूरों से दबंगई का मामला सामने आया है। जयपुर से गुना आ रही बस में कुछ दबंगों ने सीट पर बैठने को लेकर महिला मजदूरों से विवाद किया। जब महिलाओं ने दबंगों को अपनी सीट पर बैठाने से इनकार किया तो वे महिलाओं से छेड़खानी करने लगे, आरोपियों ने महिलाओं के साथ मारपीट की जिसमें महिलाएं गंभीर रूप से घायल हो गई हैं। रही सही कसर पुलिस ने पूरी कर दी, पुलिस ने पीड़ितों की शिकायत दर्ज नहीं की। बड़ी मशक्कत के बाद पीड़ितों ने एसपी से गुहार लगाई तब कहीं जाकर महिला मजदूरों की शिकायत दर्ज हुई।

 दरअसल ये महिला मजदूर जयपुर में पानी पूरी बनाने और बेचने का काम करते थे। 11 लोगों का परिवार काम बंद होने की वजह से जालौन लौट रहा था। सभी लोग जयपुर में बालाजी कंपनी की बस में सवार होकर और लहार आ रहे थे। तभी पोरसा-गोरमी हाईवे पर उसी बालाजी कंपनी की दूसरी बस जो कि दिल्ली से आ रही थी। दिल्ली वाली बस से कुछ युवक उतरे और लहार की ओर जाने वाली बस में सवार हो गए।

बस का कंडक्टर महिला मजदूरों की सीट पर उन युवकों को बैठाने लगा। जब महिलाओं ने मना किया तो युवकों ने अभद्रता की। इस दौरान बस की अन्य सवारियों से भी युवकों की बहस हो गई। गुस्साए ड्राइवर ने गोरमी थाना इलाके के महुआ चौकी के पास बने साईं पेट्रोल पंप के पास बस रोक दी। जिसके बाद वहां पर गांव के कुछ लठैत पहुंचे और सवारियों को बस से उतारकर दौड़ा-दौड़ा कर पीटा।

दबंगों ने महिलाओं और पुरुषों को घसीटते हुए बस के नीचे उतारा और लाठी-डंडों से जमकर पिटाई की। इस घटना में कई महिला और पुरुष मजदूर गंभीर घायल हो गए हैं। बड़ी मशक्कत के बाद पुलिस ने शिकायत दर्ज की है।