सिलेंडर ब्लास्ट से मैरिज हॉल में लगी आग, रस्सी और साड़ी की मदद से बचाए गए लोग

राजधानी भोपाल के कोहेफिजा स्थित ऑर्चिड मैरिज हॉल में चल रही थी सगाई की पार्टी, किचन में सिलेंडर ब्लास्ट के बाद लगी आग, दूसरी मंजिल पर फंसे लोगों को बचाया गया

Updated: Feb 17, 2021, 10:40 AM IST

सिलेंडर ब्लास्ट से मैरिज हॉल में लगी आग, रस्सी और साड़ी की मदद से बचाए गए लोग
Photo Courtesy: Bansal

भोपाल। राजधानी भोपाल के कोहेफिजा इलाके में बीती रात सिलेंडर ब्लास्ट होने से एक मैरिज हॉल में भीषण आग लग गई। इस दौरान मैरिज हॉल में सगाई हो रही थी। हॉल के दूसरे तल पर फंसे 35 लोगों को रस्सी और साड़ी के जरिए रेस्क्यू किया गया। राहत की बात यह है इस हादसे में किसी के हताहत होने की खबर नहीं नहीं है। 

बताया जा रहा है कि कोहेफिजा में होंडा शोरूम के बगल में स्थित ऑर्चिड मैरिज हॉल में मंगलवार की शाम सगाई का कार्यक्रम चल रहा था। ग्राउंड फ्लोर पर मुख्य कार्यक्रम हो रहा था और रस्में शुरू करने की तैयारी चल रही थी। पहली मंजिल पर किचन है, जबकि दूसरी मंजिल के कमरों में कुछ मेहमान ठहरे हुए थे। शाम करीब 7 बजे किचन में सिलेंडर ब्लॉस्ट होने से बिल्डिंग में आग लग गई। चूंकि ज्यादातर लोग ग्राउंड फ्लोर पर थे इसलिए वे तत्काल बाहर आ गए।

इस दौरान करीब 35 मेहमान दूसरे फ्लोर पर थे और वे ऊपर ही फंस गए। स्थानीय लोगों का आरोप है कि घटना कि जानकारी देने के बाद भी दमकल की गाड़ियां मौके पर देरी से पहुंची। इसके पहले ही लोगों को रस्सी और साड़ी के सहारे नीचे उतार लिया गया था। इस ब्लास्ट में कोई जनहानि नहीं हुई, हालांकि किचन का पूरा सामान जल गया। सूचना के बाद मौके पर पहुंची दमकल की 7 गाड़ियों ने आधे घंटे में आग पर काबू पा लिया।

होटल में फायर सेफ्टी उपकरण नहीं होने से काफी समस्या आई। आग लगने से चारों तरफ धुआं होने पर दमकलकर्मी चाहकर भी सीढ़ियों से सेकंड फ्लोर तक नहीं पहुंच पा रहे थे। इस दौरान रस्सी के सहारे सेकेंड फ्लोर पर फंसे लोगों को मेन रोड साइड में उतारने के लिए खिड़कियों में लगे कांच तोड़े गए। महिलाओं को रेस्क्यू करने में काफी मशक्कत का सामना करना पड़ा। रिपोर्ट्स के मुताबिक इस होटल में न तो शादी और सगाई जैसे कार्यक्रमों के लिए जरूरी लाइसेंस लिया गया है और न फायर एनओसी ली गई।