नौकरी मांगने पहुंचे थे युवा, सरकार ने बरसाई लाठियां, भोपाल में बेरोजगार युवाओं की बेरहमी से पिटाई

सरकारी भर्ती की मांग को लेकर भोपाल पहुंचे थे पूरे प्रदेश के युवा, पुलिस ने की बर्बरता, लाठीचार्ज के दौरान कई बेरोजगार युवक घायल, यूथ कांग्रेस बोली- कंस मामा का अंत नजदीक

Updated: Aug 18, 2021, 02:20 PM IST

नौकरी मांगने पहुंचे थे युवा, सरकार ने बरसाई लाठियां, भोपाल में बेरोजगार युवाओं की बेरहमी से पिटाई

भोपाल। मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में बेरोजगार युवाओं पर पुलिस ने बर्बरतापूर्ण तरीके से लाठीचार्ज किया। पुलिस की इस बेरहमी से कई युवाओं को गंभीर चोटें आईं हैं। पुलिस ने युवाओं पर लाठीचार्ज इसलिए किया क्योंकि वे नौकरी की मांग को लेकर प्रदर्शन कर रहे थे। यूथ कांग्रेस ने पुलिस की इस बर्बर कार्रवाई की निंदा की है, साथ ही सीएम शिवराज पर निशाना साधते हुए कहा है कि मामा कंस का अंत बेहद नजदीक है।

दरअसल, सरकारी भर्ती की मांग को लेकर प्रदेश के कई जिलों के युवा बुधवार को राजधानी भोपाल में इकट्ठा हुए थे। सैंकड़ों की संख्या में बेरोजगार युवा का हुजूम नीलम पार्क के पास प्रदर्शन कर रहा था। इस दौरान युवाओं का एक जत्था रोशनपुरा चौराहे से नीलम पार्क की ओर पैदल मार्च कर रहा था। यहां PHQ के सामने पुलिस ने युवाओं को रोककर जमकर लाठियां बरसाई। 

इस घटना का वीडियो भी सामने आया है जिसमें पुलिस युवाओं को दौड़ा-दौड़ा कर पीटती नजर आ रही है। बताया जा रहा है कि पुलिस की इस कार्रवाई में कई युवकों को गंभीर चोटें आई है। मध्य प्रदेश के पूर्व सीएम कमलनाथ ने कहा है कि रोजगार मांग रहे युवाओं को दौड़ा-दौड़ा कर पीटा जाना बेहद निंदनीय व शर्मनाक है। उन्होंने आगे कहा कि एक लाख रोजगार प्रतिवर्ष देने का दावा करने वाली सरकार की यही हकीकत है। 

कंस मामा का अंत नजदीक- यूथ कांग्रेस

बेरोजगार युवाओं पर पुलिसिया बर्बरता को यूथ कांग्रेस ने बर्दाश्त से बाहर करार दिया है। यूथ कांग्रेस मीडिया विभाग के अध्यक्ष विवेक त्रिपाठी ने कहा कि, 'आज शिवराज सरकार का असली चेहरा बेनकाब हो गया है। अपना हक मांग रहे युवाओं पर लाठियां सीएम के इशारे पर चलाई गई। प्रदेश के युवा अब जाग गए हैं, और बीजेपी की तानाशाही वाले सिस्टम को उखाड़ फेंकेंगे। मामा कंस का अंत नजदीक है।'

रिपोर्ट्स के मुताबिक पुलिस ने कई युवाओं को गिरफ्तार भी कर लिया है। पुलिसिया कार्रवाई के बाद प्रदर्शनस्थल पर तनाव का माहौल है। प्रदर्शनकारियों का कहना है कि हर साल हजारों की संख्या में सरकारी कर्मचारी रिटायर हो रहे हैं लेकिन सरकार उनकी जगह नई भर्तियां नहीं कर रही है। सरकार की नीतियों के कारण हमारा भविष्य अंधकार में है।

यह भी पढ़ें: सीएम को राखी बांधने भोपाल पहुंचीं चयनित शिक्षक, सीएम से राखी गिफ्ट के तौर पर चाहती हैं नियुक्ति

उधर, चयनित शिक्षिकाएं भी आज भोपाल स्थित बीजेपी मुख्यालय पर प्रदर्शन कर रही हैं। इन्हें तीन साल पहले चयन किया गया था लेकिन अबतक नियुक्ति पत्र नहीं दी गई है। प्रदर्शनकारी महिलाएं रक्षाबंधन के मौके पर सीएम शिवराज के लिए राखी लेकर भी पहुंची हैं। उनका कहना है कि राखी गिफ्ट के रूप में ही सही सीएम हमें नियुक्ति पत्र दें।