BJP ने विधानसभा स्पीकर से की कमलनाथ की शिकायत, बकवास वाले बयान पर कार्रवाई की मांग

एमपी बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा ने विधानसभा अध्यक्ष गिरीश गौतम को पत्र लिखकर कहा है कि कमलनाथ ने संसदीय मर्यादा का उल्लंघन किया है

Updated: Apr 26, 2022, 01:00 PM IST

BJP ने विधानसभा स्पीकर से की कमलनाथ की शिकायत, बकवास वाले बयान पर कार्रवाई की मांग

भोपाल। मध्य प्रदेश विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष कमलनाथ के "बकवास" वाले बयान पर सियासत तेज हो गई है। बीजेपी ने विधानसभा अध्यक्ष गिरीश गौतम को इस संबंध में पत्र लिखकर कमलनाथ की शिकायत की है। बीजेपी अध्यक्ष वीडी शर्मा ने कमलनाथ पर संसदीय मर्यादा को तोड़ने का आरोप लगाया है।

विधानसभा अध्यक्ष को संबोधित पत्र में बीड़ी शर्मा ने लिखा है कि, 'कमलनाथ जो छिंदवाड़ा विधानसभा क्षेत्र से विधायक एवं विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष भी हैं, उन्होंने दिनांक 25/04/2022 को एक समाचार माध्यम को दिये गये एक साक्षात्कार में विधानसभा की कार्यवाही को लेकर अत्यंत आपत्तिजनक अशोभनीय और सदन की मर्यादा के विरूद्ध कदाचरण की श्रेणी में आने वाली टिप्पणी की है। लोकसभा और विधानसभा का लंबा अनुभव रखने वाले सदस्य द्वारा सदन की गरिमा को गिराये जाने का कृत्य किसी भी दृष्टि से संवैधानिक मूल्यों और लोकतांत्रिक गरिमा के अनुकूल नहीं कहा जा सकता।' 

वीडी शर्मा ने आगे लिखा है कि, 'इतने वरिष्ठ सदस्य द्वारा ऐसी गंभीर टिप्पणी से अन्य सदस्यों को भी ऐसे अमर्यादित आचरण की प्रेरणा मिल सकती है। प्रत्येक सदस्य को हर हाल में संविधान तथा विधानसभा की प्रक्रिया और आचरण के नियमों का पालन सुनिश्चित करना आवश्यक होता है। ऐसा नहीं करने पर उक्त सदस्य को सदन का सदस्य रहने का अधिकार नहीं है। कमलनाथ जो मध्य प्रदेश कॉग्रेस कमेटी के अध्यक्ष भी हैं, उनके द्वारा की गई टिप्पणी संवैधानिक मूल्यों के प्रति एक राजनैतिक दल के मुखिया की सोच को भी दर्शाती है।'

यह भी पढ़ें: फर्शी पत्थर खदान मज़दूरों के लिए पत्र लिखने के बाद उनके बीच पहुँचे दिग्विजय सिंह, सहकारी श्रमिक संस्था को बंद करने से संकट में मज़दूर

शर्मा के मुताबिक कमलनाथ द्वारा विधानसभा की कार्यवाही को 'बकवास' कहा जाना घोर आपत्तिजनक है। उन्होंने विधानसभा अध्यक्ष गिरीश गौतम से मांग किया है कि कमलनाथ के विरूद्ध संविधान के अनुच्छेद 194 तथा विधानसभा की प्रक्रिया और आचरण के नियम 264 व 265 के तहत तथा सदन की गरिमा को ठेस पहुॅचाने के कृत्य का संज्ञान लेते हुए अनुच्छेद 191 तथा 190 के तहत भी कार्रवाई किया जाना चाहिए।

मामले पर मीडिया से बातचीत के दौरान वीडी शर्मा ने कहा कि, 'मैं कमलनाथ से आप से पूछना चाहता हूं कि देश की लोकसभा के अंदर विधानसभा के अंदर जो कार्यवाही होती है... इस कार्यवाही में नीति निर्धारण के साथ हर योजनाए बनती है... विकास से लेकर गरीब कल्याण तक की योजनाएं सरकार बनाती है... उन पर चर्चा लोकतंत्र संसदीय प्रक्रियाओं के तहत होती है... क्या वह सब देश के अंदर बकवास है? इस बात का जवाब कमलनाथ जी आपको मध्य प्रदेश को देना होगा।'

दरअसल, एक इंटरव्यू में पूर्व सीएम कमलनाथ से जब पूछा गया था कि वे विधानसभा में समय क्यों नहीं देते हैं? तो उनका कहना था कि, 'हां मैं विधानसभा में कम जाता हूं। क्योंकि वे (भाजपा) विधानसभा में बकवास करते हैं। मुझे प्रतिदिन 200 लोगों से मिलना होता है। मैं वहां उनकी बकवास सुनने के लिए वहां जाऊं क्या।'