श्यामला हिल्स थाने में सीएम शिवराज के खिलाफ शिकायत दर्ज, कमलनाथ को आतंकी बताने का मामला

कांग्रेस प्रतिनिधिमंडल ने सीएम शिवराज सिंह चौहान के खिलाफ शुक्रवार को श्यामला हिल्स थाने में शिकायत दर्ज कराई है, कांग्रेस ने सीएम से कहा है कि वे अपने बयान पर माफी मांगें

Updated: Jul 11, 2022, 03:44 PM IST

श्यामला हिल्स थाने में सीएम शिवराज के खिलाफ शिकायत दर्ज, कमलनाथ को आतंकी बताने का मामला

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा कमलनाथ को लेकर आपत्तिजनक टिप्पणी किए जाने का मामला तुल पकड़ चुका है। कांग्रेस नेताओं ने श्यामला हिल्स थाने में सीएम चौहान के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है। कांग्रेस नेताओं ने सीएम के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। पुलिस ने कहा है कि हम शिकायत की जांच कर रहे हैं।

दरअसल, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सीधी में आयोजित चुनावी सभा में पीसीसी चीफ कमलनाथ पर हमला करते हुए उनका आतंकवादी कनेक्शन बता दिया। सीएम ने कहा कि आजकल कमलनाथ आतंकियों की राह पर चल रहे हैं। वे अधिकारियों कर्मचारियों को धमकी दे रहे हैं। आतंकवाद और कांग्रेस का सीधा सीधा रिश्ता रहा है। इतिहास उठाकर देख लीजिए आतंकवाद केवल कांग्रेस के कारण बढ़ा है। आतंकवाद और कांग्रेसी एक -दूसरे के पूरक हैं।

सीएम के इस बयान को लेकर कांग्रेस कार्यकर्ताओं में खासा रोष है। कांग्रेस ने पुलिस को शिकायती आवेदन देकर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के खिलाफ केस दर्ज करने की मांग की है। कांग्रेस की प्रदेश मीडिया उपाध्यक्ष संगीता शर्मा के नेतृत्व ने प्रतिनिधिमंडल भोपाल के श्यामला हिल्स थाने पहुंचा और शिकायती आवेदन देकर एफआईआर दर्ज करने की मांग की।

संगीता शर्मा ने कहा कि शिवराज सिंह चौहान ने जिस तरह से बयान दिया है, वह बेहद गैर जिम्मेदाराना है. निकाय चुनाव के प्रचार के दौरान ऐसे गंभीर आरोप लगाना कानून व्यवस्था पर सवाल उठाता है। इस तरह के बयान देना उनकी संवैधानिक मर्यादाओं के खिलाफ भी है। सीएम या तो इस्तीफा दें या कांग्रेस से माफी मांगें।मामले पर एडिशनल पुलिस कमिश्नर रामस्नेही मिश्रा ने कहा है कि कांग्रेस द्वारा सौंपी गई शिकायत का परीक्षण किया जाएगा।

सीएम के इस बयान पर कांग्रेस विधायक जीतू पटवारी ने भी निशाना साधा है। कांग्रेस एमएलए ने कहा कि, '45 साल तक राजनीति के जरिए जनसेवा और देशसेवा करने वाले कमलनाथ पर टिप्पणी कर शिवराज सिंह चौहान ने अपनी घटिया सोच स्पष्ट कर दी है। जबकि आतंकवाद से बीजेपी का सीधा रिश्ता साबित हो चुका है। प्रदेश जानता है कि कैसे बीजेपी के राज में सिमी आतंकी जेल से भागे थे!'