रीवा जिला वक्फ कमेटी का अध्यक्ष एक लाख रुपए की रिश्वत लेते धराया

अध्यक्ष प्रबंध समिति इन्तजामिया कमेटी वक्फ छोटी दरगाह को दी थी पद से हटाने की धमकी, रीवा जिला वक्फ कमेटी के अध्यक्ष ने पद पर बने रहने के लिए मांगी की 5 लाख की रकम, पहली किश्त के एक लाख रुपए लेते रीवा लोकायुक्त ने पकड़ा

Updated: Jun 29, 2021, 02:07 PM IST

रीवा जिला वक्फ कमेटी का अध्यक्ष एक लाख रुपए की रिश्वत लेते धराया
Photo Courtesy: Naidunia

रीवा। जिला वक्फ कमेटी के अध्यक्ष को लोकायुक्त पुलिस ने एक लाख रुपए की रिश्वत लेते ट्रैप किया है। मंगलवार सुबह आरोपी को रंगे हाथ पकड़ा गया है। फरियादी मोहम्मद अनस अब्बासी ऊर्फ सोनू की शिकायत पर रीवा लोकायुक्त ने कार्रवाई की है। आरोपी जिला वक्फ कमेटी अध्यक्ष ने फरियादी अनस से 5 लाख रुपए की मांग की थी। जिसकी पहली किस्त लेते आरोपी को पकड़ा गया है। 

दरअसल आरोपी इरफान खान ने रीवा के छोटी दरगाह वर्क कमेटी के अध्यक्ष मोहम्मद अनस अब्बासी ऊर्फ सोनू को उनके पद से हटाने की धमकी दी थी। कहा था कि अगर 5 लाख रुपए नहीं दिए तो उसकी शिकायत करके पद से हटा दिया जाएगा। शिकायत नहीं करने के एवज में रुपयों की मांग की जा रही थी। जिसकी शिकायत फरियादी मोहम्मद अनस अब्बासी ने लोकायुक्त से कर दी थी। जिसके बाद लोकायुक्त ने योजनाबद्ध तरीके से जिला वक्फ कमेटी के अध्यक्ष इरफान खान को रीवा लोकायुक्त पुलिस ने रंगे हाथ ट्रैप किया है।

फरियादी अध्यक्ष प्रबंध समिति इन्तजामिया कमेटी वक्फ छोटी दरगाह मोहम्मद अनस अब्बासी ऊर्फ सोनू रीवा के निपनिया चौराहा के निवासी है, उन्होंने जिला वक्फ कमेटी अध्यक्ष 30 वर्षीय इरफान खान की शिकायत की थी। रीवा गोविंदगढ़ मार्ग पर बुढ़वा पेट्रोल पंप के पास पीड़ित को पैसे देने के लिए बुलाया गया था। जैसे ही फरियादी ने आरोपी को रुपए दिए पहले से तैयार लोकायुक्त पुलिस ने आरोपी को रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया। इस कार्रवाई में लोकायुक्त पुलिस की 13 सदस्यीय टीम मौजूद थी। लोकायुक्त ने भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के तहत कार्रवाई की। आरोपी जिला वक्फ कमेटी के अध्यक्ष को पुलिस कंट्रोल रुम ले जाया गया। जहां आगे की कार्रवाई जारी है। बताया जा रहा है कि इरफान खान ने कांग्रेस छोड़कर कुछ दिनों पहले ही बीजेपी की सदस्यता ली है।