MP के एक और स्टेशन का बदला जाएगा नाम, टंट्या भील के नाम से जाना जाएगा इंदौर का पातालपानी स्टेशन

नाम बदले जाने की घोषणा खुद सीएम शिवराज की ओर से की गई है, मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक शिवराज सरकार इस संबंध में केंद्र सरकार को प्रस्ताव भेजने की तैयारी कर रही है

Updated: Nov 23, 2021, 03:52 PM IST

MP के एक और स्टेशन का बदला जाएगा नाम, टंट्या भील के नाम से जाना जाएगा इंदौर का पातालपानी स्टेशन
Photo Courtesy: TV 9 Bharatvarsh

भोपाल/इंदौर। भोपाल के हबीबगंज स्टेशन का नाम बदले जाने के बाद अब मध्य प्रदेश की भाजपा शासित सरकार एक और स्टेशन का नाम बदलने की तैयारी कर रही है। जल्द ही शिवराज सरकार इंदौर के पातालपानी रेलवे स्टेशन का नाम बदलने वाली है। पातालपानी रेलवे स्टेशन का नाम बदलकर अब इस स्टेशन का नाम टंट्या भील के नाम पर रखे जाने की योजना है। 

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक पातालपानी स्टेशन का नाम बदलने के संबंध में शिवराज सरकार जल्द ही केंद्र सरकार को एक प्रस्ताव भेजने वाली है। केंद्र सरकार से मंजूरी मिलने के बाद इंदौर का पातालपानी रेलवे स्टेशन टंट्या भील के नाम से जाना जाएगा। 

इससे पहले हाल ही में शिवराज सरकार ने भोपाल के हबीबगंज स्टेशन का नाम बदलने जाने का प्रस्ताव भी केंद्र सरकार को भेजा था। जिसे केंद्र सरकार ने आनन फानन में अपनी स्वीकृति प्रदान कर दी थी। केंद्र सरकार से स्वीकृति मिलने के बाद हबीबगंज का नाम रानी कमलापति के नाम पर रख दिया गया। 15 नवंबर को प्रधानमंत्री मोदी ने इस स्टेशन का उद्घाटन किया था। 

पातालपानी रेलवे स्टेशन का नाम टंट्या भील के नाम पर रखे जाने के साथ साथ मानपुर के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र का नाम भी टंट्या भील के नाम पर रखा जाएगा। वहीं पातलपानी स्थित टंट्या भील के मंदिर का भी जीर्णोद्धार किया जाएगा। इसका एलान मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सोमवार को मंडला में आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान किया था। 

टंट्या भील का नाम आदिवासी समुदाय के सबसे बड़े नायकों में शुमार है। आदिवासी समुदाय टंट्या भील को भगवान की तरह पूजते हैं। आदिवासी घरों में टंट्या भील की पूजा होती है। टंट्या भील ने अंग्रेजों के विरुद्ध लड़ाई में अपना योगदान दिया था। उनका नाम इंडियन रोबिनहुड के तौर पर भी मशहूर है।