मध्य प्रदेश कांग्रेस का आरोप, दिल्ली के बवाल के पीछे बीजेपी की साज़िश

कांग्रेस ने लाल क़िले पर धार्मिक झंडा फहराने वाले दीप सिद्धू को बताया बीजेपी नेताओं का करीबी, तस्वीरें भी जारी कीं, वरिष्ठ कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने कहा, गृह मंत्री अमित शाह द्वारा प्रायोजित थी हिंसा

Updated: Jan 27, 2021, 09:39 AM IST

मध्य प्रदेश कांग्रेस का आरोप, दिल्ली के बवाल के पीछे बीजेपी की साज़िश
Photo Courtesy: Twitter/MP Congress

भोपाल। मध्य प्रदेश कांग्रेस ने गणतंत्र दिवस के दिन दिल्ली में मचे बवाल के लिए बीजेपी की साज़िश को ज़िम्मेदार ठहराया है। पार्टी ने लाल क़िले पर धार्मिक झंडा फहराने वाले दीप सिद्धू को बीजेपी नेताओं का क़रीब बताते हुए  प्रधानमंत्री मोदी और गृह मंत्री अमित शाह के साथ उसकी तस्वीरें भी शेयर की हैं। कांग्रेस के दिग्गज नेता और राज्य सभा सांसद दिग्विजय सिंह ने तो दिल्ली की घटनाओं के लिए सीधे-सीधे गृह मंत्री अमित शाह की साज़िश को जिम्मेदार बताया है। 

कांग्रेस ने आरोप लगाया है कि दीप सिद्धू ने ही एक साज़िश के तहत किसानों के शांति पूर्ण आंदोलन में उपद्रव फैलाया। पार्टी का आरोप है कि यह साज़िश बीजेपी में रची थी, जिसका मक़सद किसानों के आंदोलन को बदनाम करना था। मध्य प्रदेश कांग्रेस ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से इस बारे में कई ट्वीट किए हैं। ऐसे ही एक ट्वीट में कांग्रेस ने लिखा है, “बीजेपी की साज़िश बेनक़ाब, आंदोलन को बदनाम करने की साज़िश; किसानों के शांतिपूर्ण आन्दोलन में उपद्रव फैलाने वाले दीप सिद्धू की ये तस्वीरें बीजेपी की साज़िश का पर्दाफ़ाश करने के लिये काफ़ी है। देश किसानों के साथ खड़ा है, नरेन्द्र मोदी से मेरा देश बड़ा है।” कांग्रेस ने अपने इस ट्वीट के साथ ही दीप सिद्धू की बीजेपी नेताओं के साथ तस्वीरें भी शेयर की हैं।

 

 

वरिष्ठ कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने दिल्ली में हुई हिंसा को अमित शाह द्वारा प्रायोजित बताया है। मंगलवार को ही एक हिंदी अखबार को दिए इंटरव्यू ने उन्होंने कहा कि दिल्ली में गणतंत्र दिवस पर हुई हिंसा के लिए पकड़े गए लोगों के पास सरकारी कर्मचारी होने के आईडी कार्ड मिले हैं। दीप सिद्धू की तरफ इशारा करते हुए उन्होंने कहा कि बवाल के लिए जिम्मेदार एक व्यक्ति नरेंद्र मोदी के साथ फोटो खिंचवाता है। सांसद और अभिनेता सनी देओल का खास है। दिग्विजय सिंह ने कहा कि मेरा आरोप है ये हमला शासन यानी अमित शाह की ओर से प्रायोजित था। उन्होंने कहा कि आंदोलन में न कोई खालिस्तानी है न कोई पाकिस्तानी। हिंसा में अमित शाह के चुने हुए अधिकारी-कर्मचारी शामिल थे, जिन्होंने ये सब कुछ किया। क्योंकि ये लोग आंदोलन को बदनाम करना चाहते हैं।

मध्य प्रदेश कांग्रेस ने एक और ट्वीट में दीप सिद्धू को लाल क़िले में झंडा फहराने के मामले में एनआईए द्वारा पूछताछ के लिए बुलाए जाने की ख़बर का ज़िक्र करते हुए बीजेपी नेताओं के उसके रिश्ते को कटघरे में खड़ा किया है। कांग्रेस ने इस ट्वीट में लिखा है, “दिल्ली की घटना में बीजेपी का हाथ..? बीजेपी नेताओं के करीबी को एनआईए ने बुलाया; साज़िश की “बू” आ रही है, बीजेपी रोज गिरती जा रही है।”

Photo Courtesy: Twitter/MP Congress

कांग्रेस ने जिस दीप सिद्धू के साथ बीजेपी नेताओं की तस्वीरों पर सवाल उठाए हैं, वो एक पंजाबी अभिनेता है, जो बीजेपी सांसद और अभिनेता सन्नी देओल के लिए चुनाव प्रचार कर चुका है। किसान नेताओं ने भी उस पर युवाओं को भड़काकर ट्रैक्टर परेड के तय रूट से अलग रास्ते पर ले जाने और लाल क़िले पर क़ब्ज़ा करके धार्मिक झंडा फहराने का आरोप लगाया है। दीप सिद्धू ने ख़ुद भी माना है कि लाल क़िले पर धार्मिक झंडा उसी ने फहराया था। हालाँकि वो बाक़ी आरोपों से इनकार कर रहा है। कुछ किसान नेता तो उसे केंद्र सरकार का एजेंट भी बता रहे हैं।