मध्यप्रदेश में सिख युवक को दबंगों ने पीटा, पगड़ी की बेदबी की, सिख समाज का सीएम शिवराज को चेतावनी

मध्यप्रदेश के देवास जिले में दबंगों ने सिख समुदाय के युवक के साथ मारपीट की, सामने आया सीसीटीवी वीडियो, सर्वोच्च सम्मान वाले पगड़ी की बेदबी देख सिख समुदाय में आक्रोश

Updated: Mar 27, 2021, 07:18 PM IST

मध्यप्रदेश में सिख युवक को दबंगों ने पीटा, पगड़ी की बेदबी की, सिख समाज का सीएम शिवराज को चेतावनी
Photo Courtesy : IndiaTV

देवास। मध्यप्रदेश के देवास जिले में सिख समुदाय के एक युवक के साथ मारपीट और पगड़ी की बेदबी का मामला सामने आया है। बताया जा रहा है कि दबंगों द्वारा संपत्ति पर अवैध कब्जे की शिकायत करने को लेकर अपराधियों ने सरेआम सिख युवक की पिटाई की और उसके पगड़ी, दस्तार और पवित्र केश की बेदबी की। इस घटना के बाद शिख समुदाय में आक्रोश है। मामले पर कांग्रेस प्रवक्ता नरेंद्र सलुजा ने सीएम शिवराज को चेतावनी देते हुए आरोपियों पर कार्रवाई की मांग की है। 

जानकारी के मुताबिक, यह घटना देवास ज़िले के काँटाफोड़ की है जहां बीते 25 मार्च यानी गुरुवार को एक सिख युवक परविंदर सिंह टूटेजा को कुछ लोगों ने सरेराह मारपीट की, लाठियों से पीटा, सिख धर्म की पवित्र दस्तार की बेदबी की, बालों की बेदबी की। इस घटना का वीडियो सामने आने के बाद राज्यभर के शिख समुदाय के लोगों में आक्रोश है। घटना के विरोध में काँटाफोड़ सिख समाज ने विरोध प्रदर्शन किया है। सिख समाज ने सीएम शिवराज सिंह चौहान को पत्र लिखकर आरोपियों पर कड़ी कार्रवाई करने की भी मांग की है। 

मामले पर कांग्रेस प्रवक्ता नरेंद्र सलुजा ने आरोप लगाया है कि पुलिस ने आरोपियों को इसलिए छोड़ दिया है क्योंकि वे बीजेपी से जुड़े हुए हैं। उन्होंने सीएम शिवराज को चेतावनी देते हुए कहा, 'प्रदेश में सिख धर्म के सर्वोच्च सम्मान का प्रतीक केश व दस्तार की बेदबी की गई है। इसके दोषियों पर धार्मिक भावनाओं के अपमान व अन्य धाराओं में कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जाए, अन्यथा सिख समाज चुप नहीं बैठेगा, देश भर का सिख समाज इस घटना से बेहद आक्रोशित है व इस घटना के ख़िलाफ़ आंदोलन करेगा।' 

सलुजा ने दावा किया कि आरोपियों को बीजेपी के बड़े नेताओ का राजनैतिक संरक्षण प्राप्त है और उन्हीं के दबाव में आरोपियों को बचाया जा रहा है? बताया जा रहा है कि जिस युवक के साथ मारपीट की गई है उसके परिजनों ने आरोपियों के खिलाफ थाने में शिकायत की थी। पीड़ित परिवार का आरोप है कि उनके जमीन पर अवैध कब्जा किया गया है। इस शिकायत के बदले ही आरोपियों ने युवक के दस्तार की बेदबी कड़ते हुए उसके साथ मारपीट की है। मामले के सीसीटीवी फुटेज में आरोपियों का पहचान साफ होने के बाद भी पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार नहीं किया है।