इंदौर में बना कोरोना रूपी रावण, 15 फीट लंबे इंजेक्शन से होगा वध, सैनिटाइजर वाले रावण की भी चर्चा

मध्य प्रदेश के इंदौर में रावण पर कोरोना इफेक्ट, रावण अपना वध देखने आए लोगों को खुद ही करेगा सैनिटाइज, कहीं कोरोना रूपी रावण का वैक्सीन रूपी हथियार से होगा वध

Updated: Oct 13, 2021, 01:30 PM IST

इंदौर में बना कोरोना रूपी रावण, 15 फीट लंबे इंजेक्शन से होगा वध, सैनिटाइजर वाले रावण की भी चर्चा
Photo Courtesy: Bhaskar

इंदौर। कोरोना का कहर थमने के बाद सरकार ने इस बार मामूली प्रतिबंधों के साथ दशहरा मनाने की इजाजत दी है। हालांकि, दशहरा मनाने के पुराने तौर तरीकों में कोरोना का इफेक्ट और उसकी वजह से आए बदलाव स्पष्ट तौर पर देखने को मिल रहे हैं। इतना ही नहीं इस बार का रावण भी कोरोना से बचने का संदेश दे रहा है। मध्य प्रदेश के इंदौर में कुछ ऐसे ही अनोखे रावण बनाए गए हैं जो प्रदेश भर में चर्चा का विषय है।

इंजेक्शन से होगा रावण वध

इंदौर में श्री कृष्ण टॉकीज के सामने कोरोना रूपी रावण बनाया गया है। खास बात यह है कि रावण वध वैक्सीन रूपी हथियार से किया जाएगा। करीब 1 लाख रुपए की लागत से तैयार इस रावण को मारने के लिए 15 फीट लंबी इंजेक्शन जैसी मशाल तैयार की गई है। इसपर कोविशिल्ड और कोवैक्सीन लिखा जाएगा। इससे यह संदेश देने का प्रयास किया गया है कि कोरोना को हराने के लिए वैक्सीन जरूरी है।

यह भी पढ़ें: गरबा की धुन पर थिरकने वालीं साध्वी पर कांग्रेस का तंज, जनता के मुसीबत में पड़ते ही हो जाती हैं बीमार

यह अनोखा रावण वध कार्यक्रम सूर्यमंच संस्था द्वारा आयोजित किया जा रहा है। संस्था के संयोजक सन्नी पठारे के मुताबिक वे पहले भी आसाराम, कसाब और नवाज शरीफ रूपी रावण बनाकर उनका दहन कर चुके हैं। इस साल संस्था ने कोरोना वायरस को सामाजिक बुराई माना है, जो लाखों लोगों का जीवन लील गया।

रावण करेगा लोगों को सैनिटाइज

इंदौर के उषागंज छावनी मैदान में आयोजित होने वाले रावण दहन में सैनिटाइजर वाले रावण को बनाया गया है। यहां का रावण अपना वध देखने आए लोगों को खुद ही सैनिटाइज करेगा। एकता सहयोग समिति ने इस रावण को बनाया है। बताया जा रहा है कि 41 फीट ऊंचा यह रावण 100 फीट तक सैनिटाइजर की बौछार करेगा। इसमें करीब 10 हजार लीटर सैनिटाइजर लगेगा। संस्था के सदस्य किशोर मीणा ने बताया कि यह रावण पूरी तरह से वाटर प्रूफ है जिसे बारिश के बावजूद भी जलने में कोई परेशानी नहीं होगी। 

किशोर मीणा के मुताबिक उनकी संस्था पहले भी सीता हरण, लिफ्ट वाला रावण, इंद्रजाल वाला रावण, भस्म कंगन वाला रावण, स्वर्ण कवच वाला रावण बना चुकी है। खास बात ये है कि इसे इसे हिंदू-मुस्लिम दोनों मिलकर तैयार कर रहे हैं। इसे बनाने में बनाने में मोहम्मद आजम खान, जुबेर खान, लवकुश मीणा, सुमित तलरेजा, अतुल गोयल समेत कई लोग जुटे हुए हैं।