Superstition for Rain: बुजुर्ग महिला को नीम पहनाकर गांव घुमाया

Sehore: बैलगाड़ी पर निकली बुजुर्ग महिला की बारात। एमपी में लगभग एक पखवाड़े से बारिश का हो रहा है इंतज़ार

Updated: Aug 03, 2020 08:57 PM IST

Superstition for Rain:  बुजुर्ग महिला को नीम पहनाकर गांव घुमाया

सीहोर/बरखेड़ा। सीहोर में पानी कमी और बारिश न होने की समस्या से परेशान लोगों ने इंद्र देवता को प्रसन्न करने के लिए एक अनूठा तरीका अपनाया। सीहोर के बरखेड़ा निवासियों ने एक 80 वर्षीय महिला को नीम की पत्तियों से बने वस्त्र पहनाए। इसके बाद गांव की महिलाएं, बुज़ुर्ग महिला को बैल गाड़ी पर बिठाकर गांव के तालाब तक ले गईं। गांव के तालाब तक बुज़ुर्ग महिला की बारात निकालने का अजीबो गरीब तरीका अपनाया गया। 

सीहोर की जनता के सामने इस समय सबसे बड़ी समस्या पानी की किल्लत है। बारिश न होने की वजह से किसानों की सोयाबीन की फसलें सूख रही हैं। जिस वजह से लोग इन्द्र देवता को प्रसन्न करने के लिए अजब गज़ब टोटके अपना रहे हैं। रविवार को सीहोर के बरखेड़ा गांव के निवासियों ने शांताबाई नामक 80 वर्षीय बुजुर्ग महिला को दूल्हा बना दिया। महिला को नीम की पत्तियों वाले कपड़े पहनाए गए। सारे तामझाम के बाद महिला को साफा पहनाया गया और बैल गाड़ी पर बिठाकर पूरे गांव में घुमाकर तालाब तक बारात तक निकाली गई।

समाजसेवी एमएस मेवाड़ा के अनुसार क्षेत्र में सावन का महीना बीत जाने के बावजूद भी बारिश नहीं हुई है। जिस वजह से किसानों की फसलें सूखने के कगार पर है। लोग पानी की किल्लत का सामना कर रहे हैं। इसलिए बरखेड़ा के ग्रामीण तरह तरह के टोटके अपना कर इन्द्र देवता को प्रसन्न करने में जुटे हुए हैं, जिससे पानी की समस्या से क्षेत्र के लोगों को राहत मिल सके।