MP में देखें बहनजी की माया, सीधी में उतारी बसपा पुलिस, TI से लेकर कॉन्स्टेबल तक हुई भर्तियां

बहुजन समाज पुलिस (BSP) या बहुजन वालंटियर फ़ोर्स (BVF) है मायावती के प्राइवेट पुलिस का नाम, टीआई से लेकर कॉन्स्टेबल तक हुआ पदों का बंटवारा, फुल ड्रेस में थ्री स्टार लगा कर रहे ड्यूटी

Updated: Dec 04, 2021, 12:35 PM IST

MP में देखें बहनजी की माया, सीधी में उतारी बसपा पुलिस, TI से लेकर कॉन्स्टेबल तक हुई भर्तियां

सीधी। उत्तर प्रदेश में तेजी से अपनी राजनीतिक जमीन खो रही बीएसपी सुप्रीमो मायावती अब मध्य प्रदेश में संभावनाएं तलाश रही हैं। मायावती ने यहां बहुजन समाज के लोगों को पोलराइज करने के लिए एक अलग ही कारनामा कर दिया है। उन्होंने सीधी जिले में अपनी प्राइवेट पुलिस उतार दी है। इसमें कॉन्स्टेबल से लेकर TI जैसे पदों पर लोगों की भर्तियां हुई है। 

बहुजन समाज पार्टी के नेताओं ने सीधी एसपी पंकज कुमावत को आवेदन देकर अपनी पुलिस मैदान में उतारने की अनुमति मांगी है। इतना ही नहीं अनुमति मिलने से पहले ही जोश से लबरेज बसपा की पुलिस बल सड़कों पर दिखने भी लगी है। हाथ में डंडा, फुल ड्रेस और कंधे पर टू या थ्री स्टार लगाकर ये नॉर्मल पुलिस की तरह ड्यूटी करने लगे हैं। इन्हें बहुजन समाज पुलिस (BSP) या बहुजन वालंटियर फ़ोर्स (BVF) के नाम से पुकारा जा रहा है। 

खास बात ये है की इस पुलिस में भर्ती के लिए कोई योग्यता की जरूरत नहीं है, बल्कि सिर्फ जोश ही काफी है। अधिकारियों ने बताया कि बहुजन समाज के लिए काम करने का जज्बा और जोश के आधार पर पुलिस बल में लोगों को वरियता दी गई है। यानी जिसमें जोश ज्यादा उसे थ्री स्टार लगा दिया और जिसमें थोड़ी जोश की कमी दिखी उसे टू स्टार से संतोष करना पड़ा। स्थानीय लोगों के मुताबिक जब बीएसपी पुलिस अधिकारी सड़कों पर उतरे तो यह तय करना मुश्किल था कि ये असली अधिकारी हैं या सिर्फ मनोनीत। 

यह भी पढ़ें: MP में पुलिस की कार्रवाई से हटेंगे उर्दू और फारसी के शब्द, सरल हिंदी शब्दों का होगा प्रयोग

इतना ही नहीं एक पुलिसकर्मी ने तो थ्री स्टार धारक को सैल्यूट भी मार दिया, लेकिन बाद में उसे हकीकत समझ आई। मामले पर बसपा के सीधी जिलाध्यक्ष रामखेलावन रजक ने कहा कि, 'हमारे साथ अत्याचार होता है, हम लोगों ने अपने लिए सुरक्षा के इंतजाम खुद किए हैं और अपनी पुलिस बनाई है। राष्ट्रीय नेतृत्व ने जिले में 16 लोगों को भर्ती करने के लिए कहा था। सभी की भर्ती हो चुकी है। इसमें 3 टीआई और 4 टू स्टार शामिल हैं। इसमें जोश को कॉन्स्टेबल और टीआई की पोस्ट का आधार बनाया गया है। उन्हें हथियार नहीं दिया जाएगा, बल्कि सिर्फ हाथों में डंडा लेकर ड्यूटी करेंगे।' 

हो सकती है कार्रवाई

इस पूरे मामले में एडिशनल एसपी अंजूलता पटेल ने कहा, 'बसपा ने अपनी पुलिस बनाने को लेकर आवेदन दिया है। आवेदन के जरिए सभी की नियुक्ति की मांग की गई है। उनका कहना है कि यह हमारी पार्टी की रक्षा करेगी। वास्तविकता में कानून में ऐसा कोई प्रावधान नहीं है, जो कोई भी राष्ट्रीय पार्टी या क्षेत्रीय पार्टी अपने लिए खुद की पुलिस की तैनाती कर दे। अगर उन्होंने नियम के विपरीत जाकर ऐसा कोई कृत्य किया है तो नियमानुसार वैधानिक कार्रवाई की जाएगी।'