MP यूथ कांग्रेस में बड़ी प्रशासनिक सर्जरी, प्रदेश अध्यक्ष डॉ भूरिया ने 23 निष्क्रिय पदाधिकारियों को किया बर्खास्त

3 प्रदेश सचिव, 1 जिलाध्यक्ष सहित 19 विधानसभा अध्यक्ष हुए एमपी यूथ कांग्रेस से पदमुक्त, विक्रांत भूरिया बोले- कमलनाथ जी को सीएम बनाना हमारा लक्ष्य, निष्क्रिय पदाधिकारियों के लिए यूथ कांग्रेस में कोई जगह नहीं

Updated: Jan 17, 2023, 05:54 PM IST

MP यूथ कांग्रेस में बड़ी प्रशासनिक सर्जरी, प्रदेश अध्यक्ष डॉ भूरिया ने 23 निष्क्रिय पदाधिकारियों को किया बर्खास्त

भोपाल। मध्य प्रदेश यूथ कांग्रेस में सोमवार को बड़ी प्रशासनिक सर्जरी हुई है। युवा कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष डॉ विक्रांत भूरिया ने 23 निष्क्रिय पदाधिकारियों को बर्खास्त कर दिया है। इनमें 3 प्रदेश सचिव, 1 जिलाध्यक्ष सहित 19 विधानसभा अध्यक्ष शामिल हैं। प्रदेश अध्यक्ष डॉ विक्रांत भूरिया ने कहा कि यूथ कांग्रेस में निष्क्रिय पदाधिकारियों के लिए कोई जगह नहीं है, हम सक्रिय युवाओं को आगे बढ़ाएंगे।

दरअसल, कांग्रेस की युवा ब्रिगेड मध्य प्रदेश फतह के लिए युद्धस्तर पर जुटी हुई है। प्रदेश अध्यक्ष डॉ विक्रांत भूरिया के नेतृत्व में राज्यभर में "यूथ जोड़ो, बूथ जोड़ो" अभियान चलाया जा रहा है। इस अभियान के तहत प्रदेशभर में हजारों युवाओं को बूथ स्तर पर संगठन से जोड़ने और भारत जोड़ो यात्रा के संदेश को आक्रामक रूप से गांव-गांव तक ले जाने की योजना है।

यह भी पढ़ें: वरुण को गले लगा सकता हूं, लेकिन उनकी विचारधारा नहीं अपना सकता: होशियारपुर में बोले राहुल गांधी

डॉ. भूरिया ने हम समवेत को बताया कि विधानसभा चुनाव के मद्देनजर सम्पूर्ण प्रदेश में युवा कांग्रेस का "यूथ जोड़ो बूथ जोड़ो' 'अभियान गतिशील है, जिसके तहत प्रत्येक बूथ पर कार्यकारिणी का गठन प्रमुखता से किया जा रहा है। इस अभियान में प्रदेश के जिन पदाधिकारियों, जिला अध्यक्ष एवं विधानसभाओं के अध्यक्षों ने रूचि नही दिखाई, ऐसे पदाधिकारियों को कई बार चेतावनी दी गई थी। बावजूद वे इसे गंभीरता से नहीं ले रहे थे। ऐसे में राष्ट्रीय नेतृत्व से चर्चा उपरांत हमने उन्हें पदमुक्त करने का निर्णय लिया है। 

डॉ भूरिया ने शेष पदाधिकारियों को चेतावनी देते हुए कहा कि जो संगठन के अनुरूप मानदण्डों पर खरे नहीं उतरेंगे उनके खिलाफ भी भविष्य में ऐसी ही कार्यवाही की जाएगी। भूरिया ने कहा, ' यूथ कांग्रेस में निष्क्रिय पदाधिकारियों के लिए कोई जगह नहीं है। हम इस साल होने वाले चुनाव में कांग्रेस की जीत सुनिश्चित करने के लिए प्रतिबद्ध हैं। कमलनाथ जी को पुनः मुख्यमंत्री बनाना हमारा लक्ष्य है। जो पदाधिकारी गंभीरता से काम नहीं करेंगे उनके खिलाफ कार्रवाई होगी और उन ऊर्जावान साथियों को संगठन में आगे बढ़ाया जाएगा तो जमीनी स्तर पर संगठन और पार्टी को मजबूत करेंगे।'

भूरिया ने बताया कि जिन लोगों को दायित्व मुक्त किया गया है उनके स्थान पर शीघ्र ही ऐसे ऊर्जावान, स्थानीय जनाधार वाले युवाओं को अवसर दिया जाएगा जो आगामी विधानसभा से पहले युवा कांग्रेस को बूथ स्तर तक और भी ज्यादा मजबूत कर सकें। उन्होंने कहा कि जो पदाधिकारी विधानसभा और जिला स्तर पर बेहतर काम कर रहे हैं उन्हें प्रदेश स्तर पर बड़ी जिम्मेदारी दी जाएगी और चुनाव उपरांत परफॉर्मेंस के आधार पर उन्हें सम्मानित भी किया जाएगा।

इन पदाधिकारियों के खिलाफ हुई कार्रवाई

मध्य प्रदेश युवा कांग्रेस से जिन पदाधिकारियों को पदमुक्त किया है उनमें तीन प्रदेश सचिव हिज्जुर्रहमान खान, अजय राय, चन्द्रकांत शर्मा, बैतूल जिला गौरव खातरकर समेत विधानसभा अध्यक्ष प्रवीण कुमार जैन अटेर, संदीप तिवारी- बैहर, जितेन्द्र महुले परसवाड़ा, दीपक प्रजापति बण्डा, अनिकेश संधिया रहली. अफजल खान- दमोह, अंकुर जैन जबेरा, राहुल पटेल-हटा, महेन्द्र नायक- महाराजपुर, दिनेश चौरसिया - विजावर, अरविन्द रावत- मलेहरा, जुगलकिशोर वर्मा जतारा, राजपालसिंह पवई, नसीम कुरैशी केवलारी, राकेश डामोर पेटलावद, अजयकुमार चंदेल सिंगरौली, सुनील कुमार जायसवाल- चितरंगी, आदर्श चतुर्वेदी- सिहावल, नारायण सिंह चौहान सीधी का नाम शामिल है। ​​​​

मध्य प्रदेश युवा कांग्रेस के अध्यक्ष डॉ. विक्रांत भूरिया ने जानकारी देते हुए बताया कि, शुक्रवार 20 जनवरी 2023 को मध्यप्रदेश युवा कांग्रेस की प्रदेश कार्यकारिणी की बैठक प्रदेश मुख्यालय भोपाल में आहुत की गई है। इस बैठक में युवा कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रभारी कृष्णा अल्लावरू जी भी शामिल होंगे और यूथ जोड़ो-बूथ जोड़ो एवं संगठन के कामकाज की समीक्षा करेंगे।