MP में शूटिंग से पहले लेनी होगी कलेक्टरों की अनुमति, राज्य सरकार ने तय की गाइडलाइन

गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि शूटिंग से पहले स्थानीय स्तर पर कलेक्टरों को आवेदन देना होगा, जिसमें उन्हें स्क्रिप्ट के प्रमुख बिंदु कलेक्टर को बताने होंगे, इसके उपरांत उन्हें शूटिंग की अनुमति मिलेगी

Publish: Dec 07, 2021, 01:42 PM IST

MP में शूटिंग से पहले लेनी होगी कलेक्टरों की अनुमति, राज्य सरकार ने तय की गाइडलाइन

भोपाल। मध्य प्रदेश की शिवराज सरकार अब सेंसर बोर्ड का ज़िम्मा भी अपने हाथों में लेने जा रही है। मध्य प्रदेश में फिल्मों तथा वेब सीरीज की शूटिंग से पहले कलेक्टरों की अनुमति लेनी होगी। इसको लेकर शिवराज सरकार ने गाइडलाइंस तय कर लिए हैं। शिवराज सरकार इसे जल्द ही जारी कर सकती है। 

इसके बारे में जानकारी खुद प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने दी। पत्रकारों ने जब नरोत्तम मिश्रा से फिल्मों की शूटिंग से पहले अनुमति लेने का प्रावधान करने के उनके पुराने के बयान के बारे में पूछा तब उन्होंने बताया कि गृह विभाग ने इस बाबत गाइडलाइंस तैयार कर ली हैं और इसे जल्द ही जारी भी कर दिया जाएगा। 

यह भी पढ़ें: गृह मंत्री ने दिया उपद्रवियों का साथ,शूटिंग से पहले देनी होगी स्क्रिप्ट, प्रकाश झा सोचें ऐसा क्यों हुआ

गृह मंत्री ने कहा कि बाहरी राज्यों से मध्य प्रदेश में ओटीटी प्लेटफॉर्म्स तथा फिल्मों की शूटिंग करने आने वाले लोगों के अब स्थानीय स्तर पर पत्रकारों से अनुमति लेनी होगी। नरोत्तम मिश्रा के इस एलान के बाद जब पत्रकारों से उनसे शूटिंग की अनुमति मिलने में विलम्ब से जुड़ा सवाल पूछा तब नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि अनुमति मिलने में देरी नहीं होगी। तमाम कलेक्टर तत्काल ही स्क्रिप्ट के प्रमुख बिंदुओं की जानकारी लेकर शूटिंग की अनुमति प्रदान कर देंगे। 

दरअसल अक्टूबर महीने में राजधानी भोपाल में आश्रम वेब सीरीज की शूटिंग के दौरान सेट पर बजरंग दल के उपद्रवियों ने जमकर बवाल मचाया था। बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने आश्रम वेब सीरीज के निर्माताओं पर आश्रमों की छवि बिगाड़ने का आरोप लगाते हुए उनके सेट पर तोड़फोड़ कर दी थी। वेब सीरीज के डायरेक्टर प्रकाश पर स्याही भी फेंकी गई थी। इसके बाद प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने यह बयान दिया था कि मध्य प्रदेश में अब शूटिंग से पहले निर्माताओं को स्क्रिप्ट दिखानी होगी।

यह भी पढ़ें: साध्वी ने किया अपना सेंसर बोर्ड बनाने का एलान, लोगों ने कहा कल को एक्टिंग के लिए भी करेंगी फ़ोर्स

इतना ही नहीं भोपाल से भाजपा सांसद साध्वी प्रज्ञा ने तो खुद का ही एक सेंसर बोर्ड बनाने का एलान कर दिया था। बीजेपी सांसद ने कहा था कि भारती भर्ती अखाड़ा एक डिपार्टमेंट बनाएगा, जो कि फिल्म रिलीज होने से पहले उसे देखेगा। साध्वी ने कहा था कि अखाड़ा पहले तो स्क्रिप्ट पढ़ेगा और ऐसी किसी भी फिल्म को बनने ही नहीं देगा जो हिंदू धर्म की भावनाओं को ठेस पहुंचाएगा।