गड्ढे में गाड़ी के जाने पर आई ऊर्जा मंत्री को जर्जर सड़कों की याद, अधिकारियों से कहा, खुद भरूंगा गड्ढे

ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर गुना के बजरंगगढ़ बाईपास होकर जा रहे थे, इसी दौरान सड़क पर गड्ढे होने के कारण उनकी गाड़ी हिचकोले खाने लगी, भारी दोपहर में मंत्री जी का पारा चढ़ गया और उन्होंने अधिकारियों को हड़का दिया

Publish: Oct 11, 2021, 03:21 PM IST

गड्ढे में गाड़ी के जाने पर आई ऊर्जा मंत्री को जर्जर सड़कों की याद, अधिकारियों से कहा, खुद भरूंगा गड्ढे

गुना। शिवराज सरकार में ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर को भी आखिरकार प्रदेश की जर्जर सड़कों से सामना हो गया। गुना में एक कार्यक्रम में शामिल होने जाते समय जब ऊर्जा मंत्री की गाड़ी गड्ढे में गई तब उन्हें भी हिचकोले खाते समय प्रदेश के विकास की असली तस्वीर दिखाई दे गई। बदहाल सड़कों से गुस्साए ऊर्जा मंत्री ने तत्काल ही अधिकारियों को फोन लगाया और हड़काते हुए कहा कि वे खुद ही इस इन गड्ढों को भर देंगे। 

यह घटनाक्रम रविवार का बताया जा रहा है। प्रद्युम्न सिंह तोमर गुना के प्रभारी मंत्री भी हैं। शनिवार को उन्हें अपने एक निजी कार्यक्रम में शिरकत करने जाना था। ऊर्जा मंत्री का काफिला जैसे ही बजरंगगढ़ बाईपास की ओर बढ़ा वैसे ही उनकी गाड़ी गड्ढों में लगातार हिचकोले खाने लगी। 

गाड़ी को गड्ढों में लगातार हिचकोले खाते देख प्रद्युम्न सिंह तोमर का पारा चढ़ गया। उन्होंने फौरन ही अपना काफिला रुकवाया और पीडब्ल्यूडी विभाग के अधिकारियों को मौके पर पहुंचने के लिए कहा। इतना ही नहीं प्रद्युम्न सिंह तोमर ने अधिकारियों से अपने साथ साथ तसला और फावड़ा भी लाने के निर्देश दिए। ऊर्जा मंत्री ने अधिकारियों से कहा था कि वे खुद ही इन गड्ढों को भर देंगे। 

ऊर्जा मंत्री द्वारा हड़काए जाने के बाद जब अधिकारी मौके पर पहुंचे तब प्रद्युम्न सिंह तोमर ने अधिकारियों को खूब खरी खोटी सुनाई। ऊर्जा मंत्री ने जल्द ही अमेरिका की सड़कों से बेहतर मध्य प्रदेश की सड़कों को और बेहतर करने के निर्देश दे दिए। 

मध्य प्रदेश के कई हिस्सों में सड़कों की बदतर स्थिति से लोग परेशान हैं। सड़क खराब होने के कारण कई लोग न सिर्फ दुर्घटना के शिकार हुए हैं, बल्कि दर्दनाक मौत भी प्रदेश की जनता के हिस्से आई है। सोशल मीडिया पर कई मर्तबा लोगों द्वारा बदहाल सड़कों की शिकायत करते भी देखा गया है। खुद पाटन से बीजेपी के वरिष्ठ विधायक अजय विश्नोई जर्जर सड़कों की शिकायत कर चुके हैं।