विवेक तन्खा ने सीएम भूपेश बघेल से किया आग्रह, 16 टन ऑक्सीजन का टैंकर जबलपुर पहुँचा

राज्यसभा सांसद विवेक तन्खा में छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से 16 टन ऑक्सीजन टैंकर का आग्रह किया था। सीएम ने भिलाई से जबलपुर भेजने के निर्देश दिए।

Updated: May 03, 2021, 09:43 AM IST

विवेक तन्खा ने सीएम भूपेश बघेल से किया आग्रह, 16 टन ऑक्सीजन का टैंकर जबलपुर पहुँचा
Photo courtesy: bhaskar

जबलपुर। मध्यप्रदेश में कोरोना संक्रमण हर दिन बढ़ रहा है। अस्पतालों में मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही है। ऑक्सीजन की कमी के चलते मरीज दम तोड़ रहे हैं। राज्यसभा सदस्य विवेक तन्खा ने छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से ऑक्सीजन टैंकर उपलब्ध कराने की मदद मांगी है। विवेक तन्खा के आग्रह पर सीएम बघेल ने छत्तीसगढ़ से 16 टन का टैंकर उपलब्ध कराने का भरोसा दिलाया है। बताया जा रहा है आज 16 टन का टैंकर भिलाई से चलकर जबलपुर पहुँचेगा। इससे पहले भी जब शहर में ऑक्सीजन की कमी हुई थी तब भी तन्खा ने दो टैंकर ऑक्सीजन उपलब्ध कराया था। टैंकर पहुँचने से कोरोना से संक्रमित मरीजों तक ऑक्सीजन पहुँच सकेगी। बता दें जबलपुर को शासन द्वारा मिलने वाले ऑक्सीजन कोटे से यह टैंकर अलग है।


राज्यसभा सांसद तन्खा ने कहा कि इससे पहले दो टैंकर ऑक्सीजन जबलपुर भेजवाया गया था। उससे नगर को काफी राहत मिली थी। उन्होंने कहा कि हमारा प्रयास है कि अस्पतालों में भर्ती मरीजों को ऑक्सीजन की कमी न हो पाए। गत दिवस जब उन्होंने यह सुना कि जबलपुर के एक और निजी अस्पताल में अचानक ऑक्सीजन की कमी हो गई थी उन्होंने इस पर प्रदेश शासन को अपना सहयोग देने की बात कही जिस पर शासन ने सहमति जताई।

कोरोना की दूसरी लहर में जबलपुर के प्रशासन ने बड़ी लापरवाही देखी जा रही है। बताया जा रहा है सैंपलिंग की संख्या घटा दी है। शनिवार को सिर्फ 1968 सैंपल जांच के लिए लिए गए। इसके एक दिन पहले 3083 सैंपल लिए गए थे। यह हाल तब है जब यहां पर 24% संक्रमण दर है। 24 घंटे में यहां 731 नए संक्रमितों सामने आए हैं। वहीं 805 कोरोना को हरा कर घर गए। रिकवरी रेट में लगातार सुधार है। एक मई को रिकवरी रेट 85% हो गया। सरकारी रिकार्ड में 8 मौतों के बाद कुल मौत का आंकड़ा 432 पहुंच गया है। इसमें 3837 लोग घरों में आइसोलेट हैं। एक्टिव केस 6 हजार के नीचे आ गए हैं।