Rajasthan: सचिन पायलट समर्थक विधायकों से ACB की पूछताछ

Rajasthan Horse Trading: एसीबी के अधिकारी कांग्रेस के बागी सचिन पायलट समर्थक विधायक भंवरलाल शर्मा और विश्वेन्द्र सिंह से पूछताछ करेंगे

Updated: Jul 31, 2020 08:49 PM IST

 Rajasthan: सचिन पायलट समर्थक विधायकों से ACB की पूछताछ
photo courtsey : financial express

नई दिल्ली। राजस्थान में जारी सियासी संकट के बीच हॉर्स-ट्रेडिंग के मामले में एंटी करप्शन ब्यूरो (एसीबी) ने जांच तेज कर दी है। शुक्रवार (31 जुलाई) को सुबह एसीबी की टीम गुरुग्राम के मानेसर स्थित आईटीसी होटल पहुंची। यहां एसीबी के अधिकारी कांग्रेस से बागी हुए पायलट समर्थक विधायक भंवरलाल शर्मा और विश्वेन्द्र सिंह से पूछताछ करेंगे। एसीबी टीम का नेतृत्व ब्यूरो के डिप्टी एसपी सलेह मोहम्मद कर रहे हैं जिन्हें सामान्य पूछताछ के बाद आईटीसी होटल के अंदर जाने दिया गया है।

दरअसल, राजस्थान में विधायक खरीद फरोख्त मामले में जो कथित ऑडियो टेप सामने आए थे, उनमें भंवरलाल शर्मा की आवाज़ होने का दावा किया गया था। इसके बाद से ही एसीबी और एसओजी की टीमें उनका वॉयस सैंपल लेने का प्रयास कर रही है। इसके पहके भी एक टीम मानेसर पहुंची थी जिसे हरियाणा पुलिस ने होटल में जाने से रोक दिया था। वहीं होटल प्रबंधन ने भी होटल के अंदर विधायकों के होने की बात से इंकार किया था और अधिकारियों को होटल में एंट्री से रोक दिया था।

बता दें कि राजस्थान में चल रहे सियासी उठापटक के बीच दूसरी ओर इसी विधायक खरीद फरोख्त के मामले में एक और आरोपी संजय जैन को शुक्रवार को कोर्ट में पेश किया गया। इस दौरान जयपुर डिस्ट्रिक्ट कोर्ट में उनका वॉयस सैंपल लिया जाना था लेकिन जैन ने अपना सैंपल देने से इंकार कर दिया है। राजस्थान राजनीतिक संकट मामले की शुरुआती दौर में कुछ ऑडियो वायरल हुई थे। कांग्रेस का दावा इन ऑडियो में केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत व कांग्रेस से बागी हुए पायलट समर्थक विधायक भंवरलाल शर्मा के बीच पैसों के लेनदेन की बातें हो रही है। इस मामले में एसओजी ने जब केंद्रीय मंत्री से वॉयस सैंपल मांगी थी तो उन्होंने ऑडियो की सत्यता पर सवाल उठाते हुए सैंपल देने से इंकार कर दिया था।