बंगाल चुनाव: दूसरे चरण के मतदान से ठीक पहले ECI ने हल्दिया SDPO को हटाया

नंदीग्राम से बीजेपी उम्मीदवार सुभेंदु अधिकारी ने बरुन बैद्य पर टीएमसी कार्यकर्ताओं की मदद करने का लगाया था आरोप, चुनाव आयोग ने चिट्ठी पर लिया संज्ञान

Updated: Mar 31, 2021, 09:15 AM IST

बंगाल चुनाव: दूसरे चरण के मतदान से ठीक पहले ECI ने हल्दिया SDPO को हटाया
Photo Courtesy: Op India

कोलकाता। पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के दूसरे चरण के मतदान से ठीक 36 घंटे पहले चुनाव आयोग ने बड़ा एक्शन लिया है। चुनाव आयोग ने हल्दिया एसडीपीओ बरुन बैद्य को हटाने का आदेश जारी किया है। निर्वाचन आयोग ने यह फैसला बीजेपी उम्मीदवार सुभेंदु अधिकारी की मांग के बाद लिया है। दरअसल, नंदीग्राम विधानसभा क्षेत्र से सीएम ममता के खिलाफ चुनाव लड़ रहे बीजेपी उम्मीदवार सुभेंदु अधिकारी ने एसडीपीओ बैद्य पर टीएमसी कार्यकर्ताओं की मदद करने का आरोप लगाते हुए चुनाव आयोग को चिट्ठी लिखकर कार्रवाई की मांग की थी।

निर्वाचन आयोग ने मंगलवार को कोलकाता के बल्लीगंज विधानसभा क्षेत्र के रिटर्निंग अधिकारी सहित तीन अधिकारियों को हटाया है। चुनाव आयोग द्वारा जारी आदेश में कहा गया है कि दो अन्य अधिकारियों में हल्दिया के उप-मंडल पुलिस अधिकारी (एसडीपीओ) और पूरबा मेदिनीपुर जिले में महिषादल के सर्कल इंस्पेक्टर (सीआई) शामिल हैं। चुनाव आयोग ने पश्चिम बंगाल के मुख्य निर्वाचन अधिकारी (सीईओ) को भेजे एक पत्र में कहा कि 10 से अधिक वर्षों से एक ही कार्यालय में पदस्थ और वर्तमान में बल्लीगंज सीट के रिटर्निंग अधिकारी अरिंदम मणि को तत्काल एक गैर-चुनाव पद पर स्थानांतरित किया जाए। 

चुनाव आयोग ने हल्दिया के एसडीपीओ बरुण बैद्य के जगह उत्तम मित्र को नियुक्त किया है। आयोग ने महिषादल के सर्कल इंस्पेक्टर बिचित्रा बिकास रॉय के जगह सिरसेंदु दास को नियुक्त किया। दास वर्तमान में जलपाईगुड़ी में सर्किट बेंच में निरीक्षक के पद पर तैनात हैं। उधर बल्लीगंज केे रिटर्निंग अधिकारी का पद जल्द से जल्द भरने के लिए तीन अधिकारियों का एक पैनल भी मांगा गया है।