सिंधिया को बीजेपी में लाने वाले जफर इस्लाम राज्यसभा उम्मीदवार

Syed Zafar Islam: अमर सिंह के निधन से खाली हुई यूपी की राज्य सभा सीट से बने बीजेपी उम्मीदवार

Updated: Aug 27, 2020 05:45 PM IST

सिंधिया को बीजेपी में लाने वाले जफर इस्लाम राज्यसभा उम्मीदवार
Photo Courtsey: News India Live

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश में होने अगले महीने होने वाले राज्यसभा उपचुनाव के लिए बीजेपी ने अपना उम्मीदवार घोषित कर दिया है। 11 सितंबर को होने वाले उपचुनाव में बीजेपी की ओर से पार्टी के तेज़ तर्रार प्रवक्ता डॉ सैयद जफर इस्लाम संसद की ऊपरी सदन के उम्मीदवार होंगे। उत्तर प्रदेश में दिवंगत नेता अमर सिंह की मृत्यु के बाद रिक्त हुई सीट पर उपचुनाव होना है। 

हाल ही में देश के जाने माने नेता अमर सिंह का निधन हो गया है। जिस वजह से उनकी राज्यसभा सीट रिक्त हो गई है। अमर सिंह का कार्यकाल अगले वर्ष ख़त्म होने जा रहा था। लिहाज़ा उनकी मृत्यु के बाद राज्यसभा के चुनाव होने हैं। ऐसे में बीजेपी ने अपना भरोसा पूर्व बैंक कर्मी जफर इस्लाम में जताया है। 

जफर इस्लाम को अक्सर टीवी डिबेट में देखा जाता रहा है। उनकी गिनती पार्टी के तेज़ तर्रार प्रवक्ताओं में होती है। इस्लाम प्रधानमंत्री मोदी के भी काफी करीबी बताए जाते हैं।

ज्योतिरादित्य सिंधिया को लाए बीजेपी में 

जफर इस्लाम के कांग्रेस के बागी नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया से भी इनके संबंध काफी अच्छे रहे हैं। सिंधिया के बीजेपी की सदस्यता ग्रहण करने में इनके योगदान की भी काफी चर्चा होती है। मार्च 2020 में जब मध्य प्रदेश में कांग्रेस की कमल नाथ सरकार को अस्थिर किया जा रहा था तब पर्दे का पीछे और बाहर जफर इस्लाम की सक्रियता चर्चा का कारण बनी थी। बीजेपी की सदस्यता लेने के पहले वे ज्योतिरादित्य सिंधिया के साथ एक गाड़ी में नज़र आए थे। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार वे करीब 5 महीनों तक ज्योतिरादित्य सिंधिया को बीजेपी में लाने की कोशिश में जुटे रहे। इस कोशिश में दोनों कई बार मिले। जब ज्योतिरादित्य सिंधिया मान गए तब मध्यप्रदेश में ‘ऑपरेशन लोटस’ अंजाम दिया गया। माना जा रहा है कि इसके बाद पार्टी में उनका कद काफी बढ़ गया।