राजौरी में आर्मी कैंप पर फिदायीन हमला, तीन जवान शहीद, कैंप में घुसने की कोशिश में दो आतंकी ढेर

जम्मू-कश्मीर के राजौरी के उरी हमले जैसी साजिश नाकाम, आर्मी कैंप पर फिदायीन हमला करने आए दो आतंकी ढेर, तीन जवान शहीद

Updated: Aug 11, 2022, 09:33 AM IST

राजौरी में आर्मी कैंप पर फिदायीन हमला, तीन जवान शहीद, कैंप में घुसने की कोशिश में दो आतंकी ढेर

राजौरी। स्वतंत्रता दिवस से पहले जम्मू-कश्मीर के राजौरी के परगल में उरी हमले जैसी साजिश नाकाम हो गई। यहां कुछ आतंकियों ने आर्मी कैंप में घुसने की कोशिश की। इसके बाद सुरक्षाबलों ने जवाबी कार्रवाई की। इसमें दो आतंकी ढेर हो गए। फायरिंग में सेना के तीन जवान भी शहीद हो गए जबकि 5 जवान जख्मी हैं। परगल कैंप राजौरी से 25 किमी की दूरी पर है।

जम्मू जोन के एडीजीपी मुकेश सिंह ने बताया, 'राजौरी के दारहाल में एक आर्मी कैंप में कुछ लोगों ने अंदर घुसने की कोशिश की। तभी दोनों तरफ से फायरिंग शुरू हो गई। अतिरिक्त सुरक्षाबल मौके पर भेजा जा रहा है। जख्मी जवानों को नजदीकी अस्पताल में भर्ती कराया गया है।'

यह भी पढ़ें: गरीबों का निवाला छीनकर आजादी का जश्न, राशन में कटौती कर जबरन कार्ड धारकों को थमाया तिरंगा

11 राष्ट्रीय राइफल से मिली जानकारी के मुताबिक, आर्मी कैंप में आतंकियों ने आत्मघाती हमला किया था। इसमें दोनों आतंकी ढेर हो गए।' फिलहाल ये पता नहीं चल पाया कि कितने आतंकियों ने यह हमला किया। पूरे इलाके में सर्च ऑपरेशन जारी है।

बता दें कि इसी तरह 18 सितंबर 2016 को कश्मीर के उरी में सुबह साढ़े 5 बजे 4 आतंकवादी सेना के कैंप में घुस गए थे। 3 मिनट के भीतर ही आतंकियों ने 15 से ज्यादा ग्रेनेड फेंके, जिसमें सेना के 19 जवान शहीद हो गए थे। सेना की जवाबी कार्रवाई में चारों आतंकी मारे गए।