मंकीपॉक्स ग्लोबल हेल्थ इमरजेंसी घोषित, दिल्ली में सामने आया पहला केस, स्वास्थ्य विभाग में हड़कंप

दिल्ली का 31 वर्षीय युवक मंकीपॉक्स की चपेट में आया है, जिसे मौलाना आजाद अस्पताल में भर्ती कराया गया है, पूरे देश में अभी तक मंकीपॉक्स के चार मामले सामने आ चुके हैं, WHO ने ग्लोबल हेल्थ इमरजेंसी का ऐलान किया है

Updated: Jul 24, 2022, 02:01 PM IST

मंकीपॉक्स ग्लोबल हेल्थ इमरजेंसी घोषित, दिल्ली में सामने आया पहला केस, स्वास्थ्य विभाग में हड़कंप
Photo Courtesy: NDTV

नई दिल्ली। भारत में भी अब मंकीपॉक्स पांव पसारने लगा है। राजधानी दिल्ली में मंकीपॉक्स का पहला केस सामने आया है। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने इस बात की जानकारी दी है। बताया जा रहा है कि संक्रमित 31 वर्षीय युवक को लोकनायक जयप्रकाश नारायण अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने रविवार सुबह ट्वीट किया, 'मंकीपॉक्स का पहला मामला दिल्ली में सामने आया था। मरीज फिलहाल स्थिर है और रिकवर हो रहा है। घबराने की कोई जरूरत नहीं है। स्थिति पूरी तरह नियंत्रण में है। हमने एलएनजेपी में अलग आइसोलेशन वार्ड बनाया है। हमारी सबसे अच्छी टीम दिल्लीवासियों की रक्षा करने के लिए लगी हुई है।'

यह भी पढ़ें: वेश्यालय चला रहे थे BJP के वरिष्ठ नेता, रिसॉर्ट से पुलिस ने 6 नाबालिगों को बचाया, 400 बोटल शराब बरामद

बताया जा रहा है कि इस मरीज का विदेश यात्रा का कोई इतिहास नहीं है। संक्रमित शख्स बीते दिनों शख्स हिमाचल प्रदेश से घूमकर लौटा है। पूरे देश में अभी तक मंकीपॉक्स के चार मामले सामने आ चुके हैं, इनमें से तीन केरल के रहने वाले हैं। मंकीपॉक्स के लिए देश में 16 डेडीकेटेड लैब शुरू की गए हैं, जिनमें दो लैब केरल के लिए हैं।

विश्वभर में मंकीपॉक्स (Monkeypox) के बढ़ते मामलों को देखते हुए WHO ने ग्लोबल हेल्थ इमरजेंसी का ऐलान किया है। WHO ने मामले में हो रहे इजाफे को देखते हुए आम लोगों से सतर्क रहने की भी अपील की है। विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कहा है कि 70 से अधिक देशों तक मंकीपॉक्स का प्रसार हो गया है यह आपात स्थिति है।