आज BJP में शामिल होंगे हार्दिक पटेल, ट्वीट कर लिखा- यशस्वी PM के नेतृत्व में सिपाही बनकर काम करूंगा

गुजरात के पाटीदार नेता हार्दिक पटेल कांग्रेस का दामन छोड़ने के बाद आखिरकार आज बीजेपी में शामिल होने जा रहे हैं, दावा किया जा रहा है की वे 15 हजार कार्यकर्ताओं के साथ बीजेपी ज्वाइन करेंगे

Updated: Jun 02, 2022, 11:42 AM IST

आज BJP में शामिल होंगे हार्दिक पटेल, ट्वीट कर लिखा- यशस्वी PM के नेतृत्व में सिपाही बनकर काम करूंगा

अहमदाबाद। कांग्रेस पार्टी से पाला बदलकर बीजेपी में जाने का ऐलान कर चुके हार्दिक पटेल आज यानी कि गुरुवार को आधिकारिक तौर पर भाजपा का सदस्यता ग्रहण करेंगे। हार्दिक पटेल ने इस मौके पर एक ट्वीट में लिखा है कि यशस्वी पीएम के नेतृत्व में सिपाही बनकर काम करूंगा।

हार्दिक पटेल में गुरुवार सुबह ट्वीट किया, 'राष्ट्रहित, प्रदेशहित, जनहित एवं समाज हित की भावनाओं के साथ आज से नए अध्याय का प्रारंभ करने जा रहा हूँ। भारत के यशस्वी प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र भाई मोदी जी के नेतृत्व में चल रहे राष्ट्र सेवा के भगीरथ कार्य में छोटा सा सिपाही बनकर काम करूँगा।'

जानकारी के मुताबिक हार्दिक पटेल गांधी नगर स्थित भाजपा मुख्यालय पहुंचकर पार्टी में शामिल होंगे। इस दौरान प्रदेश अध्यक्ष सीआर पाटिल मौजूद होंगे और उन्हें भाजपा की सदस्यता दिलाएंगे। हार्दिक पटेल के भाजपा में शामिल होने के आयोजन को भाजपा ग्रैंड इवेंट में तब्दील करना चाहती है। दावा किया जा रहा है की हार्दिक के साथ 15 हजार लोगों को सदस्यता दिलाने की तैयारी है।

यह भी पढ़ें: सौरभ गांगुली ने नहीं दिया है इस्तीफा, जय शाह ने किया खबरों का खंडन, ट्वीट से हुआ था कन्फ्यूजन

बता दें कि कुछ दिन पूर्व ही हार्दिक ने कांग्रेस पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी को पत्र लिखकर पार्टी से इस्तीफा दे दिया था। पत्र में उन्होंने पार्टी की राज्य इकाई के साथ-साथ शीर्ष नेतृत्व के रवैये पर भी सवाल उठाया था। हार्दिक पटेल ने अपने इस्तीफे में जो बातें लिखी थी उससे ही साफ हो गया था की वह बीजेपी में शामिल होंगे। उन्होंने कहा था कि कांग्रेस पार्टी लोगों की भावनाओं को आहत करने के लिए काम करती है, हमेशा हिंदू धर्म की आस्था को नुकसान पहुंचाने की कोशिश करती है।

विधानसभा चुनाव से ठीक पहले हार्दिक का भाजपा में शामिल होना अहम माना जा रहा है। गुजरात में 2015 में हुए पाटीदार आरक्षण आंदोलन का हार्दिक पटेल प्रमुख चेहरा थे। वह बीजेपी के खिलाफ आंदोलन करके ही गुजरात के राजनीति में उभरे थे। कांग्रेस में उनकी एंट्री के बाद पार्टी ने उन्हें कार्यकारी अध्यक्ष भी बनाया। लेकिन उपेक्षा का हवाला देते हुए उन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को इस्तीफा सौंप दिया। अब देखना ये होगा कि पाटीदार समाज हार्दिक के इस दलबदल को कितना स्वीकारोक्ति देता है।