गिरफ्तारी के डर से नेपाल भागा आशीष मिश्रा, लखीमपुर नरसंहार का मुख्य आरोपी है आशीष

आशीष मिश्रा के साथ उसके एक अन्य दोस्त अंकित दास की भी नेपाल भागने की खबर है, दोनों की लोकेशन काठमांडू में मिली है

Updated: Oct 08, 2021, 11:42 AM IST

गिरफ्तारी के डर से नेपाल भागा आशीष मिश्रा, लखीमपुर नरसंहार का मुख्य आरोपी है आशीष
Photo Courtesy: Amar Ujala

लखनऊ। केंद्रीय मंत्री अजय मिश्रा टनी का बेटा आशीष नेपाल भाग गया है। गिरफ्तारी के डर से वह अपने एक अन्य दोस्त अंकित दास के साथ फरार हो गया है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक पुलिस को दोनों की लोकेशन नेपाल की राजधानी काठमांडू में मिली है। 

दरअसल इस मामले में पुलिस पर बढ़ते भारी दबाव के बाद आशीष मिश्रा को पूछताछ के लिए आज सुबह करीब दस बजे बुलाया गया था। लखनऊ आईजी लक्ष्मी सिंह का बयान भी मीडिया में आया है कि आशीष मिश्रा को करीब दस बजे आज पुलिस के सामने पेश होने के लिए कहा गया है। 

लेकिन इन सबके बीच आशीष मिश्रा के नेपाल भाग जाने की खबर चौंकाने वाली है। इस पूरे मामले में यूपी पुलिस की लेटलतीफी की आलोचना हो रही है। इसके साथ ही पूरे मामले में यूपी पुलिस की मंशा पर लगातार सवाल खड़े किए जा रहे हैं। आशीष मिश्रा की गिरफ्तारी की मांग लगातार तेज हो रही है। 

यह भी पढ़ें : लखीमपुर मामले की सुनवाई कल तक के लिए टली, सुप्रीम कोर्ट ने योगी सरकार से मांगी स्टेटस रिपोर्ट

हालांकि आशीष मिश्रा के रिश्तेदार का एक बयान भी मीडिया में सामने आया है। आरोपी के रिश्तेदार ने यह दावा किया है कि आशीष मिश्रा नेपाल नहीं भागा है। रिश्तेदार का कहना है कि आशीष मिश्रा आज ही अपने वकील के साथ पुलिस के सामने पेश होंगे।

योगी सरकार को आज सुप्रीम कोर्ट में लखीमपुर खीरी नरसंहार मामले में स्टेट्स रिपोर्ट भी दाखिल करनी है। गुरुवार को ही सुप्रीम कोर्ट ने मामले की सुनवाई को एक दिन के लिए टाल दिया था। इस दौरान कोर्ट ने योगी सरकार को नरसंहार के बाद यूपी पुलिस की ओर से की गई कार्रवाई की जानकारी देने के लिए कहा है। सीजेआई एनवी रमन्ना की अगुवाई वाली बेंच इस पूरे मामले को देख रही है।