मुंबई में करंट लगने से 12 साल के बच्चे की दर्दनाक मौत, खिलौने बेचता था बच्चा

बच्चे ने बिजली के हाई वोल्टेज वायर से सटाकर रखी गई लोहे की सीढ़ी छू ली थी, मासूम बच्चा तेज़ करंट की चपेट में आकर देखते ही देखते जल गया, विचलित करने वाला यह हादसा CCTV कैमरे में रिकॉर्ड हो गया है

Updated: Feb 23, 2021, 11:45 AM IST

मुंबई में करंट लगने से 12 साल के बच्चे की दर्दनाक मौत, खिलौने बेचता था बच्चा
Photo Courtesy: TV 9

मुंबई। मुंबई के एरोली में एक बेहद दर्दनाक हादसे में बारह साल के एक मासूम बच्चे की करंट लगने से मौत हो गई। बच्चे को लोहे की सीढ़ी छूने के कारण करंट लग गया। लोहे की सीढ़ी बिजली के जिस तार को छू रही थी, उसमें 11 KV का हाई वोल्टेज करंट दौड़ रहा था। नंगे पांव सीढ़ी को छूने के कारण बच्चा फौरन हाई वोल्टेज करंट की चपेट में आ गया और कुछ सेकेंड में ही उसके पूरे शरीर में आग लग गई। 

यह खौफनाक हादसा सोमवार की सुबह नवी मुंबई के एरोली के सेक्टर 7 में करीबन 8.52 बजे हुआ। मीडिया में आई जानकारी के मुताबिक बच्चे ने सड़क किनारे रखी लोहे की सीढ़ी को अचानक छू लिया। चूंकि सीढ़ी बिजली के तार से टकरा रही थी, इसलिए बच्चे को हाई वोल्टेज करंट लग गया। हादसा इतना दर्दनाक था कि सीढ़ी के संपर्क में आते ही बच्चे के शरीर में आग लग गई और उसने मौके पर ही दम तोड़ दिया। यह हादसा पास में लगे एक सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गया है। यह खौफनाक वीडियो देखने वालों को विचलित कर सकता है।

 

 

पुलिस का कहना है कि अभी तक बच्चे की पहचान नहीं की जा सकी है। जबकि स्थानीय सामाजिक कार्यकर्ता बापू गोल के मुताबिक बच्चा ट्रैफिक सिग्नल पर खिलौने बेचा करता था। सामाजिक कार्यकर्ता ने इस मामले में पुलिस में शिकायत भी दर्ज कराई है। बापू गोल ने मीडिया से कहा कि सीढ़ी को इस तरह रखा जाना गंभीर लापरवाही को दर्शाता है। इस मामले में दोषियों पर सख्त से सख्त कार्रवाई होनी चाहिए। 

इस मामले में बिजली कंपनी की ओर से स्पष्टीकरण भी आया है। मुंबई में बिजली सप्लाई करने वाली MSEDCL ने अपने एक बयान में कहा है कि 21 फरवरी को लेंसकार्ट शॉप के सामने रखी सीढ़ी को किसी ने धकेल कर बिजली के तारों से टच करवा दिया था। कंपनी ने कहा कि चूंकि बच्चा नंगे पांव था इसलिए सीढ़ी को छूते ही उसे करंक लग गया।