पद्म पुरस्कारों का ऐलान, मुलायम सिंह यादव को मरणोपरांत पद्म विभूषण

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पद्म पुरस्कार पाने वालों को ट्वीट कर बधाई दी. उन्होंने कहा, 'भारत के लिए उनके समृद्ध और विविध योगदान और विकास पथ को बढ़ाने के उनके प्रयासों को देश स्वीकार करता है।'

Updated: Jan 26, 2023, 01:36 PM IST

पद्म पुरस्कारों का ऐलान, मुलायम सिंह यादव को मरणोपरांत पद्म विभूषण

नई दिल्ली। गणतंत्र दिवस के अवसर पर केंद्र सरकार ने प्रतिष्ठित पद्म पुरस्‍कारों का ऐलान कर दिया है। उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव, यूपीए सरकार में विदेश मंत्री रह चुके एसएम कृष्णा और तबला वादक जाकिर हुसैन, ORS के खोजकर्ता डॉ. दिलीप महलानाबिस सहित छह लोगों को देश के दूसरे सर्वोच्च नागरिक सम्मान पद्म विभूषण के लिए चुना गया है।

इस साल 106 हस्तियों के लिए इस पुरस्कार की घोषणा की गई है जिसमें 6 लोगों को पद्म विभूषण, 9 पद्म भूषण और 91 लोगों को पद्मश्री दिए जाएंगे. इस बार 19 महिलाओं को पद्म पुरस्कार देने की घोषणा की गई है। गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर जारी एक आधिकारिक बयान में यह जानकारी दी गई है।

यह भी पढ़ें: JNU के बाद जामिया में BBC की डॉक्यूमेंट्री को लेकर हंगामा, स्क्रीनिंग के ऐलान के बाद 10 छात्र गिरफ्तार

ओआरएस (ORA) के जनक दिलीप महालनाबिस  को मरणोपरांत पद्म विभूषण से सम्मानित किया गया है। सरकार की ओर से जारी विज्ञप्ति के अनुसार, पश्चिम बंगाल के 87 वर्षीय डॉक्टर महालनाबिस ने ओआरएस के व्यापक इस्तेमाल का बीड़ा उठाया, ऐसा अनुमान है कि इसने वैश्विक स्तर पर 5 करोड़ से अधिक लोगों की जान बचाई है।

इस साल, देश के सर्वोच्च नागरिक सम्मान भारत रत्न के लिए किसी नाम की घोषणा नहीं की गई है।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पद्म पुरस्कार पाने वालों को ट्वीट कर बधाई दी। उन्होंने कहा, 'भारत के लिए उनके समृद्ध और विविध योगदान और विकास पथ को बढ़ाने के उनके प्रयासों को देश स्वीकार करता है।'

 विभूषण, पद्म भूषण और पद्म श्री देश के सर्वोच्च नागरिक पुरस्कारों में से हैं। 1954 से ये पुरस्कार, हर साल गणतंत्र दिवस के अवसर पर घोषित किए जाते हैं। कला, साहित्य और शिक्षा, खेल, चिकित्सा और सामाजिक कार्य के क्षेत्र के कई गुमनाम नायकों को यह सम्मान दिए जाते हैं।