बांग्लादेश दौरे पर प्रधानमंत्री मोदी ने की इंदिरा गांधी की तारीफ़, कहा, बांग्लादेश की आज़ादी में पूर्व पीएम ने निभाई अहम भूमिका

प्रधानमंत्री मोदी आज बांग्लादेश के दो दिवसीय दौरे पर पहुंचे हैं, बांग्लादेश की आज़ादी पर्व के अवसर पर आयोजित कार्यक्रम में मोदी ने पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी के योगदान का ज़िक्र किया

Publish: Mar 26, 2021, 06:58 PM IST

बांग्लादेश दौरे पर प्रधानमंत्री मोदी ने की इंदिरा गांधी की तारीफ़, कहा, बांग्लादेश की आज़ादी में पूर्व पीएम ने निभाई अहम भूमिका
Photo Courtesy : ANI

नई दिल्ली/ढाका। प्रधानमंत्री मोदी आज दो दिवसीय दौरे पर बांग्लादेश गए हैं। प्रधानमंत्री मोदी को बांग्लादेश की आज़ादी के 50 वर्ष पूरे होने पर मुख्य अतिथि के तौर पर बुलाया गया है। आज़ादी की वर्षगाँठ पर आयोजित कार्यक्रम को संबोधित करते हुए मोदी ने पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी को याद किया। मोदी ने बांग्लादेश की आज़ादी में पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी के योगदान को याद किया।  

मोदी ढाका के नेशनल परेड स्क्वायर में आयोजित नेशनल डे प्रोग्राम में बोल रहे थे। उन्होंने पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी को याद करते हुए कहा कि यह अवसर बंगबंधु के विजन और आदर्शों को याद करने का दिन है। ये समय चिरोविद्रोही को, मुक्ति युद्ध की भावना को फिर से याद करने का समय है। बांग्लादेश के मुक्ति संग्राम के लिए भारत के कोने-कोने से, हर पार्टी से, समाज के हर वर्ग से समर्थन था। तत्कालीन प्रधानमंत्री श्रीमति इंदिरा गांधीजी के प्रयास और उनकी महत्वपूर्ण भूमिका सर्वविदित है।

यह भी पढ़ें : मास्क न लगाने वालों का चालान काट रही थी नकली महिला पुलिसकर्मी, असली पुलिस ने रंगे हाथ पकड़ा

बीते पखवाड़े में यह दूसरी मर्तबा है जब प्रधानमंत्री मोदी ने गांधी नेहरू परिवार के सदस्यों की तारीफ़ की है। अमूमन प्रधानमंत्री होने के नाते भी राजनीतिक विवशता उनके इतने आड़े आ जाती है कि वे गांधी नेहरू परिवार से ताल्लुक रखने वाले पूर्व प्रधानमंत्रियों की तारीफ़ में दो शब्द खर्च नहीं पाते। इससे पहले मोदी ने दांडी मार्च से जुड़े एक कार्यक्रम में कहा था कि हम हम गांधी, नेहरू, पटेल, सुभाष जैसे महापुरुषों के सपनों का भारत बनाने की दिशा में कदम बढ़ा रहे हैं। 

यह भी पढ़ें : बांग्लादेश के दो दिवसीय दौरे पर रवाना हुए पीएम मोदी, 15 महीने बाद विदेश यात्रा पर प्रधानमंत्री

हालांकि मोदी बांग्लादेश में भी अपनी तारीफ़ करना नहीं भूले।  मोदी ने दावा किया कि जब बांग्लादेश अपनी आज़ादी के लिए संघर्ष कर रहा था। उस दौरान उन्होंने अपनी गिरफ्तारी दी थी। मोदी ने कहा कि बांग्लादेश का आंदोलन मेरे जीवन के पहले आंदोलनों में से है। मोदी ने कहा, 'मेरी उम्र 20-22 साल रही होगी जब मैंने और मेरे कई साथियों ने बांग्लादेश के लोगों की आजादी के लिए सत्याग्रह किया था।'