दलित बस्ती में प्रियंका ने लगाया झाड़ू, सीएम योगी को दिया करारा जवाब

उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ ने विवादित बयान देते हुए कहा था कि जनता ने उन्हें झाड़ू लगाने लायक ही बनाना चाहती है, इसके बाद प्रियंका गांधी ने दलित बस्ती में झाड़ू लगाकर यूपी के सीएम पर पलटवार किया है

Updated: Oct 08, 2021, 06:50 PM IST

दलित बस्ती में प्रियंका ने लगाया झाड़ू, सीएम योगी को दिया करारा जवाब
Photo Courtesy : ANI

लखनऊ। प्रियंका गांधी द्वारा सीतापुर गेस्ट हाउस में झाड़ू लगाने पर बयान देकर उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ विवादों में फंस गए हैं। प्रियंका गांधी ने भी दलित बस्ती में झाड़ू लगाकर सीएम योगी के बयान का करारा जवाब दिया है। प्रियंका गांधी ने कहा है कि झाड़ू लगाना सादगी को दर्शाता है। प्रियंका गांधी के इस बयान को सीएम योगी पर किए गए तंज के तौर पर देखा जा रहा है।  

क्या कहा था यूपी के सीएम ने 
दरअसल लखीमपुरी नरसंहार मामले में उत्तर प्रदेश की जर्जर कानून व्यवस्था को लेकर योगी सरकार आलोचना से घिरी हुई है। एक न्यूज़ चैनल ने जब सीतापुर के पीएसी गेस्ट हाऊस में प्रियंका गांधी द्वारा झाड़ू लगाए जाने से जुड़ा सवाल योगी आदित्यनाथ से किया, तब सीएम ने विवादित बयान देते हुए कहा कि जनता इन्हें इसी लायक बनाना चाहती है। 

जनता ने किया सीएम के बयान का विरोध 
सीएम योगी आदित्यनाथ के इस बयान की चौतरफा आलोचना होने लगी। जिस जनता की आड़ लेकर सीएम योगी ने प्रियंका गांधी और कांग्रेस पार्टी पर निशाना साधा था, उसी जनता ने सोशल मीडिया पर सीएम पर अभद्र टिप्पणी करने भाषा की मर्यादा लांघने का आरोप लगाना शुरु कर दिया।  

प्रियंका गांधी का सीएम को जवाब 
वहीं प्रियंका गांधी ने भी सीएम योगी को अपने ही अंदाज़ में जवाब दिया। कांग्रेस महासचिव ने राजधानी लखनऊ के इंदिरा नगर स्थित एक दलित बस्ती में पहुँच कर झाड़ू लगाना शुरु कर दिया। इस दौरान प्रियंका गांधी ने सीएम योगी के अमर्यादित बयान पर तीखा पलटवार करते हुए कहा कि झाड़ू लगाना सादगी और स्वाभीमान का प्रतीक है।  

उत्तर प्रदेश में अगले साल विधानसभा चुनाव होने हैं। विधानसभा चुनाव से पहले जिस तरह से उत्तर प्रदेश की मौजूदा सरकार बेरोज़गारी से लेकर अपराध के बढ़ते ग्राफ को लेकर आलोचनाओं का शिकार हो रही है। वहीं कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी हर घटना होते ही पीड़ित जनता का दुख दर्द बांटने निकल पड़ती हैं और प्रदेश में बिगड़ते हालात को लेकर योगी सरकार की आलोचना करती नज़र आती हैं। इस वक्त योगी सरकार के कामकाज और तौर तरीकों का सबसे मुखरता के साथ प्रियंका गांधी ही विरोध कर रही हैं। कोरोना काल की शुरुआत से ही प्रियंका गांधी ने भाजपा सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल रखा है।

सीएम योगी और उनकी सरकार के खिलाफ प्रियंका गांधी सबसे मज़बूत आवाज़ बनी हुई हैं। इसी वजह से खुद सीएम योगी और उनकी पार्टी प्रियंका गांधी की आलोचना करने का कोई मौका नहीं छोड़ते। वहीं प्रियंका गांधी भी योगी सरकार को मुंह तोड़ जवाब देने में कोई कसर नहीं छोड़तीं। राजनीतिक विश्लेषकों का यह अनुमान है कि अगर कांग्रेस यूपी चुनाव में प्रियंका गांधी को अपने सीएम चेहरे के तौर पर प्रोजेक्ट करती है, तो इससे चुनावों में कांग्रेस को बड़ा फायदा पहुँच सकता है।