मणिपुर में स्थिति आउट ऑफ कंट्रोल, सरकार ने दिया शूट एट साइट का आदेश

मणिपुर के हिंसाग्रस्त इलाकों में सेना का फ्लैग मार्च जारी है। हेलिकॉप्टर के जरिए भी निगरानी की जा रही है। सरकार की ओर से एक्सट्रीम केस में 'शूट एट साइट' का ऑर्डर दिया गया है।

Updated: May 05, 2023, 10:33 AM IST

मणिपुर में स्थिति आउट ऑफ कंट्रोल, सरकार ने दिया शूट एट साइट का आदेश

इंफाल। मणिपुर में दो समुदायों के बीच संघर्ष ने हिंसा का रूप ले लिया है। राज्य में स्थिति नियंत्रण से बाहर है। कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए अब सरकार ने खौंफनाक आदेश दिए हैं। सरकार ने हिंसा पर काबू पाने के लिए ‘शूट एट साइट’ का ऑर्डर दिया है। मणिपुर के राज्यपाल ने राज्य के गृहविभाग के देखते ही गोली मारने के आदेश को मंजूरी दे दी है। 

दरअसल, मणिपुर में बहुसंख्यक मैतेई समुदाय को एसटी कैटेगरी में शामिल करने के खिलाफ एक आदिवासी स्टूडेंट यूनियन ने मार्च बुलाया था। इसमें हिंसा भड़क गई थी। इसके बाद तत्काल आठ जिलों में कर्फ्यू लगा दिया गया था। इतना ही नहीं पूरे मणिपुर में 5 दिनों के लिए इंटरनेट सर्विस को सस्पेंट कर दिया गया है। फिलहाल मणिपुर में स्थिति तनावपूर्ण है। दंगों को रोकने के लिए भारी संख्या में सेना और असम राइफल्स को भी डिप्लोय कर दिया गया है। 

मणिपुर के हिंसाग्रस्त इलाकों में सेना का फ्लैग मार्च जारी है। हेलिकॉप्टर के जरिए भी निगरानी की जा रही है। सेना और असम राइफल्स ने चुराचंदपुर के खुगा, टाम्पा, खोमौजनब्बा के क्षेत्र, इंफाल के मंत्रीपुखरी, लाम्फेल कोइरंगी क्षेत्र और काकचिंग जिलों के सुगनू में फ्लैग मार्च और हवाई सर्वेक्षण किया है। कानून व्यवस्था की बहाली के लिए सेना और असम राइफल्स के कुल 55 कॉलम तैनात किए गए हैं। अतिरिक्त 14 कॉलम को भी शॉर्ट नोटिस पर तैनाती के लिए तैयार रखा गया है।

मणिपुर की स्थिति पर महिला मुक्केबाज मैरी कॉम ने भी ट्वीट किया और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मदद मांगी। मैरी कॉम ने अपने ट्वीट में लिखा, "मेरा राज्य मणिपुर जल रहा है. प्लीज मदद कीजिए।" उन्होंने अपने ट्वीट में पीएम नरेंद्र मोदी, पीएमओ ऑफिस, गृहमंत्री अमित शाह और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह को भी टैग किया है। उन्होंने मणिपुर हिंसा की कुछ तस्वीरों को भी अपने ट्वीट में शेयर किया है।

राज्य में हिंसा के लिए कांग्रेस ने भाजपा की एन बिरेन सिंह सरकार को दोषी ठहराया है। कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने ट्वीट किया, "मणिपुर जल रहा है। भाजपा ने समुदायों के बीच दरार पैदा कर दी है और एक सुंदर राज्य की शांति को नष्ट कर दिया है। इस गड़बड़ी के लिए बीजेपी की नफरत, बंटवारे की राजनीति और सत्ता का लालच जिम्मेदार है। हम सभी पक्षों के लोगों से संयम बरतने और शांति को एक मौका देने की अपील करते हैं।"