चार साल बाद भी तैयार नहीं हुआ स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स, खेल का मैदान भी खोद दिया, खिलाड़ी हो रहे परेशान

जबलपुर में साल 2019 में शुरू हुआ था मल्टी स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स का निर्माण, 40 करोड़ रुपए खर्च कर पूरा हुआ फर्स्ट फेज का काम, दूसरे फेज में 35 करोड़ होने हैं खर्च

Updated: Jun 01, 2022, 09:19 AM IST

चार साल बाद भी तैयार नहीं हुआ स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स, खेल का मैदान भी खोद दिया, खिलाड़ी हो रहे परेशान

जबलपुर। स्मार्ट सिटी कंपनी के सुस्त कामों से न केवल शहर के नागरिक परेशान हैं। बल्कि खिलाड़ी भी व्यथित हैं। दरअसल, शहर के उभरते युवा खिलाडि़यों के लिए स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के तहत करीब 40 करोड़ रुपये की लागत से रवि शंकर शुक्ल मैदान (राइट टाउन स्टेडियम) में मल्टी स्पोर्टस काम्पलेक्स का निर्माण कराया जा रहा है। लेकिन बीते करीब चार वर्ष बाद भी ये पूरा नहीं हुआ है। 

स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स के लिए पहले चरण में कराए जा रहे निर्माण का करीब 95 फीसदी काम तो पूरा हो गया है लेकिन कुछ काम अब भी बाकी है। इसी बीच स्मार्ट सिटी कंपनी ने 34 करोड़ रुपये की लागत से दूसरे चरण का काम शुरू कर दिया है। इसके लिए पूरा मैदान ही खोद दिया गया है। राइट टाउन स्टेडियम ही शहर का ऐसा एकमात्र स्टेडियम है जहां सभी खिलाड़ी प्रैक्टिस करने जाते हैं। सुबह-शाम लोग टहलने और व्यायाम करने भी पहुंचते हैं। लेकिन निर्माण कार्य के चलते पूरा खेल मैदान तहस-तहस कर दिए जाने से न खिलाड़ी प्रैक्टिस नहीं कर पा रहे हैं, न ही कोई टहलने आ रहा है।

यह भी पढ़ें: धर्मसंसद में महाभारत: हनुमान जी के जन्मस्थान पर शास्त्रार्थ कर रहे संत आपस में भिड़े, हाथपाई की नौबत

 इतना ही नहीं 40 करोड़ रुपये की लागत से पहले चरण में बनकर तैयार हो चुके पांच मंजिला मल्टी स्पोर्टस काम्पलेक्स का भी अब तक शुभारंभ नहीं किया गया है। जबकि दावा था कि दूसरे चरण का काम शुरू करने से पहले इसे खिलाडि़यों को समर्पित कर दिया जाएगा। इस पांच मंजिला इमारत की दूसरी मंजिल पर 750 लोगों की बैठक क्षमता के हिसाब से दर्शक दीर्घा बनाई गई। इसमें दर्शक आराम से बैठकर स्टेडियम में होने वाली खेल-कूद प्रतियोगिताओं सहित 15 अगस्त, 26 जनवरी को होने वाले ध्वजारोहण कार्यक्रमों का आनंद ले सकेंगे। खिलाड़ियों के लिए यहां टेबल टेनिस, बोर्ड गेम्स के लिए हाल, इंटरनेशनल जिमनेजियम भी बनाया गया है। लेकिन खिलाड़ी इसका उपयोग भी नहीं कर रहे हैं।

 स्मार्ट सिटी के अधिकारियों का कहना है कि दो चरणों में मल्टी स्पोर्ट्स काम्प्लेक्स तैयार हो जाने के बाद जबलपुर में भी राष्ट्रीय स्तर की खेल प्रतियोगिताएं आयोजित की जा सकेगी। बता दें कि 70-80 के दशक में यहां राष्ट्रीय स्तर की दो प्रतियोगिताएं आयोजित की गई थीं। इसके बाद 1981 को एक राष्ट्रीय स्तर की क्रिकेट प्रतियोगिता भी हुई थी। स्टेडियम में छोटे-बड़े टूर्नामेंट होते रहे हैं। शहर के इस एकमात्र खेल मैदान में ही आजादी के पर्व पर ध्वजारोहण व सांस्कृति कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं। खेल गतिविधियां भी आयोजित की जाती रही हैं। लेकिन निर्माण कार्य के चलते पिछले चार वर्षों यहां एक भी आयोजन नहीं हुए हैं।