नस्लवादी टिप्पणी बर्दाश्त नहीं, सिराज को मंकी बोले जाने पर बरसे कोहली

मोहम्मद सिराज को सिडनी टेस्ट के चौथे दिन दर्शक दीर्घा में बैठे एक व्यक्ति ने मंकी बोला था, इसके बाद दर्शक समेत उसके 6 लोगों के समूह को मैदान से बाहर कर दिया गया

Updated: Jan 11, 2021, 12:29 AM IST

नस्लवादी टिप्पणी बर्दाश्त नहीं, सिराज को मंकी बोले जाने पर बरसे कोहली
Photo Courtesy : DailyO.in

नई दिल्ली। टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली भले ही इस समय अपनी टीम के साथ नहीं हैं। लेकिन भारत में होने के बावजूद वे अपने खिलाड़ियों को खूब समर्थन दे रहे हैं। रविवार को सिडनी टेस्ट में मोहम्मद सिराज के ऊपर नस्लीय टिप्पणी करने के खिलाफ विराट कोहली ने भी अपनी आवाज़ बुलंद की है। विराट कोहली ने कहा है कि नस्लीय टिप्पणी पूरी तरह अस्वीकार्य है और यह उपद्रव की चरम सीमा है। 

विराट कोहली ने अपने ट्विटर हैंडल पर लिखा कि नस्लीय दुर्व्यवहार बिल्कुल भी स्वीकार्य नहीं होना चाहिए। मैं खुद कई बार इस चीज़ का शिकार हो चुका हूं। कोहली ने कहा कि बाउंड्री लाइन पर फिल्डिंग करते समय उन्हें भी कई मर्तबा भद्दी चीजें कही गई हैं। यह उपद्रव की चरम सीमा है। मैदान पर यह सब घटित नहीं होना चाहिए। कोहली ने सिराज के मामले को उठाते हुए कहा कि इस मामले पर सख्त से सख्त कार्रवाई होनी चाहिए। 

क्या है मामला 

दरअसल सिडनी टेस्ट के चौथे दिन ऑस्ट्रेलियाई पारी के 86वें ओवर में सिराज को दर्शक दीर्घा में बैठे एक दर्शक ने मंकी यानी बंदर कह दिया। सिराज के ऊपर की गई नस्लीय टिप्पणी की शिकायत ऑन फिल्ड अंपायर पॉल राफेल से की गई। इसके बाद सुरक्षाकर्मियों ने नस्लीय टिप्पणी करने वाले दर्शक और उसके पूरे समूह को मैदान से बाहर का रास्ता दिखा दिया।इसके बाद क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने इस पूरे घटनाक्रम की निंदा करते हुए, ज़ीरो टॉलरेंस पॉलिसी अपनाते हुए सख्त कार्रवाई करने का आश्वासन दिया है।

यह भी पढ़ें : सिराज के खिलाफ लगातार दूसरे दिन नस्लीय टिप्पणी, दर्शकों को पुलिसकर्मियों ने स्टेडियम के बाहर किया

लगातार दूसरे दिन नस्लीय टिप्पणी के शिकार हुए सिराज

ये दो दिन में दूसरा मामला था जब सिराज के ऊपर नस्लीय टिप्पणी की गई। इससे पहले शनिवार को भी सिराज के खिलाफ किसी दर्शक ने टिप्पणी की थी। सिराज के साथ साथ जसप्रीत बुमराह के खिलाफ भी टिप्पणी की गई थी। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड ने भी इस मामले में शनिवार को क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया से शिकायत की थी।