छत्तीसगढ़ में राज्य के खाते से लगनेवाले वैक्सीन पर सीएम की फ़ोटो, वैक्सिनेशन सर्टिफिकेट में रिप्लेस हुए पीएम

वैक्सिनेशन प्रमाण पत्र में पीएम मोदी की जगह सीएम भूपेश की फोटो इसलिए लगाई जा रही है क्योंकि कोरोना वैक्सीन खरीदी का खर्चा केंद्र सरकार ने राज्यों पर छोड़ दिया है.. इसलिए.राज्य ने अपने खाते से लगने वाले टीके पर सीएम की फोटो वाला सर्टिफिकेट देना शुरू किया

Updated: May 22, 2021, 08:35 PM IST

छत्तीसगढ़ में राज्य के खाते से लगनेवाले वैक्सीन पर सीएम की फ़ोटो, वैक्सिनेशन सर्टिफिकेट में रिप्लेस हुए पीएम
Photo courtesy: twitter

रायपुर। छत्तीसगढ़ सरकार ने कोरोना वैक्सिनेशन के लिए CG TEEKA एप लॉन्च किया है। इस एप पर रजिस्ट्रेशन करने वाले 18 साल से अधिक उम्र के लोगों को वैक्सिनेशन के बाद जो सर्टिफिकेट दिया जा रहा है, उसमें मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की फोटो लगाई गई है। इस सर्टिफिकेट पर प्रधानमंत्री को फोटो की जगह मुख्यमंत्री की फोटो लगाए जाने पर विपक्ष ने सवालिया निशान खड़े किए हैं।

जिसके बाद राज्य के स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने सफाई देते हुए कहा है कि जो वैक्सीन केंद्र की भेजी हुई है, औऱ कोविन एप के जरिए रजिस्ट्रेशन के बाद लगाई जा रही है, उसे लगाने के बाद प्रधानमंत्री की फोटो वाला प्रमाणपत्र दिया जा रहा है। लेकिन जो वैक्सीन छत्तीसगढ़ सरकार ने खुद कंपनियों से खरीदी है, और उसे सीजी टीका एप के माध्यम से रजिस्ट्रेशन करके लगाया जा रहा है, उस टीकाकरण के बाद सर्टिफिकेट में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की फोटो लगी है। इससे विपक्ष को आपत्ति नहीं होनी चाहिए।

केंद्र सरकार ने कोरोना वैक्सीन खरीदने के लिए खर्चा उठाने की जिम्मेदारी अब राज्य सरकारों पर छोड़ दी है। जिसके बाद सरकार ने वैक्सिनेशन खरीदी और उसे CGTEEKA एप के माध्यम से रजिस्ट्रेशन करके लगाया जा रहा है। इसमें प्रधानमंत्री की जगह मुख्यमंत्री की तस्वीर के साथ अलग वैक्सीन सर्टिफिकेट जारी किया है।

छत्तीसगढ़ सरकार ने वैक्सीन निर्माता कंपनी से 18 प्लस उम्र वालों के लिए टीके खऱीदे हैं, कुछ वैक्सीन सरकार को मिल गई है, वहीं कुछ आने वाले समय में मिल जाएगी। इससे पहले झारखंड सरकार भी कोरोना वैक्सीन सर्टिफिकेट पर मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन का फोटो लगाया गया है। छत्तीसगढ़ में कोरोना वैक्सिनेशन का काम तेजी से जारी है।