गृह मंत्री अमित शाह और मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने शहीदों को श्रद्धांजलि दी, उच्च स्तरीय बैठक में नक्सलवाद से निपटने पर बनेगी रणनीति

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने बीजापुर नक्सली मुठभेड़ में शहीद 23 जवानों को दी सलामी, मुख्यमंत्री भूपेश बघेल भी रहे मौजूद, सेना के अफसरों और सुरक्षा बलों के साथ शाह करेंगे बैठक

Updated: Apr 05, 2021, 01:08 PM IST

गृह मंत्री अमित शाह और मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने शहीदों को श्रद्धांजलि दी,  उच्च स्तरीय बैठक में नक्सलवाद से निपटने पर बनेगी रणनीति
Photo Courtesy: lalluram

जगदलपुर। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह नक्सली हमले में शहीद जवानों को श्रद्धांजलि देने जगदलपुर पहुंचे। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के साथ उन्होंने जगदलपुर के पुलिस लाइन में शहीद जवानों को श्रद्धांजलि दी। इस दौरान सुरक्षाबल के अधिकारी मौजूद थे। अमित शाह ने बीजापुर के तर्रेम में नक्सलियों से लोहा लेते हुए 23 जवानों की शहादत को सलाम किया। इस नक्सली हमले में 31 जवान घायल भी हुए हैं।

गृह मंत्री अमित शाह वायुसेना के विशेष विमान से जगदलपुर एयरपोर्ट पहुंचे थे। वहां इस मौके पर छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने उनकी अगवानी की। शहीद जवानों को श्रद्धांजलि देने के बाद गृह मंत्री और मुख्यमंत्री सेना के जवानों से मिलने बासागुडा भी पहुंचे। वहां उन्होंने जवानों का हौसला बढ़ाया।

बासागुड़ा के सीआरपीएफ कैंप में अमित शाह केंद्रीय सुरक्षा बल और छत्तीसगढ़ के आला पुलिस अधिकारियों की बैठक लेंगे। इस दौरान मुख्यमंत्री भूपेश बघेल भी मौजूद रहेंगे। इस मीटिंग में नक्सलियों के खिलाफ बड़ी रणनीति तैयार की जानी है।

दरअसल शनिवार को बीजापुर जिले के टेकुलगुडम में पुलिस-नक्सली मुठभेड़ में 23 जवान शहीद हुए थे। इस दौरान 31 घायल जवान भी हो गए थे। इनमें से 13 जवानों का इलाज रायपुर और 18 जवानों का इलाज बीजापुर में जारी है। वहीं कोबरा बटालियन का एक जवान राकेश्वर लापता है, जिनकी लताश की जा रही है।

और पढ़ें: बीजापुर नक्सली हमले में 23 जवानों के शहीद होने की खबर, कुछ अब भी लापता

इस दौरान सुरक्षा बलों ने 12 नक्सलियों को ढेर कर दिया था। नक्सली जवानों के 10 हथियार लूटकर भाग गए थे। बस्तर आईजी सुंदरराज पी. से मिली जानकारी के अनुसार नक्सलियों ने जवानों के पास से 10 हथियार भी लूटें हैं। वे ट्रैक्टरों में नक्सलियों के शव लेकर भाग खड़े हुए थे। इस हमले के बाद इलाके में सुरक्षा कड़ी कर दी गई है।