इंदौर में 5 किमी की सड़क चौड़ीकरण के लिए काटे जाएंगे 900 पेड़, खंडवा-इंदौर रोड का होगा विस्तार

नगर निगम के अधिकारियों के मुताबिक़ क़रीब दस फ़ीसदी पेड़ों को बचाकर रीलोकेट करने की होगी कोशिश, मगर 90 फ़ीसदी को काटना ही पड़ेगा

Updated: Mar 18, 2022, 05:09 PM IST

इंदौर में 5 किमी की सड़क चौड़ीकरण के लिए काटे जाएंगे 900 पेड़, खंडवा-इंदौर रोड का होगा विस्तार

इंदौर। इंदौर में पाँच किलोमीटर की सड़क को चौड़ा करने के लिए नगर निगम 900 पेड़ काटने की योजना बना रहा है। नगर निगम के अफ़सरों का कहना है कि भंवरकुआं से लेकर तेज़ाजी नगर तक सड़क को चौड़ा करने की ज़रूरत है और इस 5 किमी की रोड को तब तक चौड़ा नहीं किया जा सकता जब तक कि इलाक़े के पेड़ों को न काटा जाए।

हालाँकि नगर निगम के अधिकारियों ने न्यूज़ एजेंसी पीटीआई से कहा है कि वो पेड़ों को जड़ से उखाड़कर दूसरी जगह शिफ़्ट करेंगे। लेकिन आईएमसी गार्डेन ऑफ़िसर के मुताबिक़ वे महज़ दस फ़ीसदी पेड़ों को ही शिफ़्ट कर सकते हैं। इस स्पेशल टेक्नीक के ज़रिए जड़ों से खोदे जानेवाले पेड़ों में नीम, पीपल आदि के पेड़ होंगे।

असल में इंदौर खंडवा रोड के चौड़ीकरण का प्रस्ताव है, जिसे सड़क के किनारे आनेवाले पेड़ों को काटे बिना नहीं किया जा सकता है। मगर इनकी 900 की संख्या सबको चौंका भी रही है और चौकन्ना भी कर रही है। क्योंकि ख़ुद अधिकारियों के मुताबिक़ इस प्रस्ताव को पूरा करने के लिए 90 फ़ीसदी पेड़ों को काटने के अलावा कोई विकल्प नहीं है। वे सभी पेड़ों को शिफ्ट नहीं कर सकते हैं। निगम के अधिकारी कहते हैं कि इन पेड़ों में अनेक जंगली जड़ी बूटी के पेड़ हैं जिन्हें रीलोकेट करना मुश्किल है। यही नहीं जिन पेड़ों को ट्रांसप्लांट किया जाएगा उनकी क़ीमत भी प्रति पेड़ बीस हज़ार रूपये आएगी। यह बजट सभी पेड़ों के विस्थापन को सपोर्ट नहीं करता, इसलिए नब्बे फीसदी को काटना ही होगा।