भाजपा नेता विजय भारद्वाज का कोरोना से हुआ निधन, पार्टी में शोक की लहर

भाजपा नेता विजय भारद्वाज भारतीय जनता युवा मोर्चा के जिला अध्यक्ष रह चुके हैं। उनकी पत्नी का ग्वालियर बिरला अस्पताल में इलाज़ चल रहा है।

Updated: Apr 27, 2021, 05:11 PM IST

भाजपा नेता विजय भारद्वाज का कोरोना से हुआ निधन, पार्टी में शोक की लहर
Photo courtesy: mp braking

शिवपुरी। मध्यप्रदेश में कोरोना का कहर जारी है। कोरोना से मरने वालों की संख्या हर दिन बढ़ती जा रही है। कोरोना बीमारी के कारण शिवपुरी भारतीय जनता युवा मोर्चा के पूर्व जिला अध्यक्ष विजय भारद्वाज का आज सुबह अस्पताल में निधन हो गया। उनके निधन पर पार्टी कार्यकर्ताओं ने दुःख जताया है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक भाजपा नेता भारद्वाज हफ्तेभर पहले कोरोना की चपेट में आए थे। तबियत बिगड़ने पर उन्हें ग्वालियर के बिरला अस्पताल में भर्ती कराया गया था, उसी अस्पताल में उनकी पत्नी का भी कोरोना का इलाज़ चल रहा है। दोनों ही कोरोना संक्रमित हुए थे। विजय भारद्वाज के निधन पर शिवपुरी पार्टी कार्यालय में शोक की लहत है। पार्टी कार्यकर्ताओं ने दुःख वक्त किया है। 

और पढ़ें: शिवराज सरकार में मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर भी हुए बीमार, आज ही बीजेपी के दो नेताओं की कोरोना रिपोर्ट आई है पॉज़िटिव

गौरतलब है कि आज ही भारतीय जनता पार्टी के नेता एवं देपालपुर विधानसभा क्षेत्र से पूर्व प्रत्याशी प्रेम नारायण पटेल का निधन हो गया। वरिष्ठ नेता के निधन पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने दुःख जताया है। परिजनों ने बताया कि हफ्ते भर पहले अचानक तबियत बिगड़ने पर कोरोना जांच कराई गई। जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आने पर उन्हें कुछ दिनों से सेल्वी हॉस्पिटल में सपत्नीक भर्ती कराया गया था। आज अस्पताल में उन्होंने अंतिम सांस ली।

और पढ़ें: भाजपा नेता प्रेम नारायण पटेल का निधन, सीएम शिवराज सिंह चौहान ने जताया दुःख

उल्लेखनीय है कि मध्यप्रदेश में कोरोना के मामले बढ़ते जा रहे हैं। प्रदेश में अब तक कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 5 लाख 25 हजार के ऊपर पहुंच गया है। सोमवार को प्रदेश में 13,417 मरीज मिले हैं। लेकिन 7 दिनों में सबसे कम पॉजिटिविटी रेट 23% से नीचे हो गया है। इससे पहले 23% से 25% बीच रहा। लेकिन प्रदेश में मौतों का आंकड़ा कम नहीं हो रहा है। सरकारी रिपोर्ट के अनुसार पिछले 24 घंटे में 98 मरीजों ने दम तोड़ा है। जबकि केवल भोपाल के भदभदा विश्राम घाट में 103 शवों का कोविड प्रोटोकॉल के तहत अंतिम संस्कार किया गया।