बीजेपी MLA ने अपने 9 बच्चों के लिए बताया कांग्रेस को जिम्मेदार, बोले- समय रहते कानून ही नहीं बनाया

मध्य प्रदेश के सिंगरौली विधानसभा क्षेत्र से बीजेपी विधायक रामलल्लू वैश्य के हैं 9 बच्चे, वैश्य इसके लिए कभी विपक्ष को जिम्मेदार ठहराते हैं तो कभी भगवान की मर्जी बताते हैं

Updated: Jul 21, 2021, 12:56 PM IST

बीजेपी MLA ने अपने 9 बच्चों के लिए बताया कांग्रेस को जिम्मेदार, बोले- समय रहते कानून ही नहीं बनाया

सिंगरौली। मध्यप्रदेश में जनसंख्या नियंत्रण कानून की मांग के बीच सुर्खियों में आए बीजेपी विधायक रामलल्लू वैश्य ने अजीबोगरीब बातें कही है। सिंगरौली से बीजेपी विधायक का कहना है कि पूरे देश में यह कानून लागू होना चाहिए और मुझे इसमें छूट मिलेगी क्योंकि मैने सन 1990 के बाद मैने एक भी संतान पैदा नहीं किए। मेरे सभी बच्चे 1990 के पहले पैदा हुए।

बीजेपी विधायक ने हम समवेत से बातचीत के दौरान अपने 9 बच्चों के लिए सीधे तौर पर विपक्ष को जिम्मेदार ठहराया है। रामलल्लू वैश्य ने कहा है कि मेरे 9 बच्चे हो गए इसके लिए कांग्रेस दोषी है। उन्होंने तर्क दिया कि तत्कालीन कांग्रेस सरकार यदि जनसंख्या नियंत्रण के लिए कोई ठोस कानून लागू कर दिया होता तो मैं भी कानून का पालन करता और मेरे इतने ज्यादा बच्चे नहीं होते। 

यह भी पढ़ें: MP: दो बच्चों के कानून की पैरवी करने वाली BJP के करीब 40 फीसदी विधायकों के हैं 3 से 9 बच्चे

वैश्य में जनसंख्या नियंत्रण कानून की वकालत करते हुए कहा है कि इसे तत्काल लागू करना चाहिए, लेकिन उन्होंने यह भी शर्त रखी है कि इस कानून के दायरे में वैसे लोग न आएं, जिन्होंने कानून बनने के पूर्व 2 से ज्यादा बच्चे पैदा किए हों। 71 वर्षीय वैश्य ने कहा है कि ये नियम सभी धर्मों पर लागू होना चाहिए। उन्होंने कहा कि यदि मुस्लिमों पर लागू नहीं होगा तो हिन्दू भी नहीं रुकेंगे। मुस्लिम लोग भी कम बच्चे पैदा करें तो हम भी रुक जाएंगे। 

रामलल्लू वैश्य का कई वीडियो सोशल मीडिया पर मंगलवार से ही लगातार वायरल हो रहा है। वायरल वीडियो में वैश्य के खुद के बयानों में विरोधाभास देखा जा सकता है। एक तरफ़ तो उन्होंने कांग्रेस को जिम्मेदार ठहराया है वहीं दूसरी ओर उन्होंने इसे भगवान की मर्जी भी बताया है। वैश्य ने यह भी कहा है कि बच्चे पैदा करने हमारे बस में थोड़ी न है। भगवान की इच्छा थी तो हमारे 9 बच्चे हो गए। भगवान को जो मर्जी होगी वही होगा।

यह भी पढ़ें: क्रोनोलॉजी समझिए: ‛ऑपरेशन कमल का हथियार बना था पेगासस, जासूसी कर कर्नाटक में गिराई गई थी कांग्रेस सरकार’

दरअसल, उत्तरप्रदेश सरकार द्वारा जनसंख्या नियंत्रण विधेयक 2021 ड्राफ्ट तैयार करने के बाद अब मध्यप्रदेश में भी इस तरह का कानून लाने की बात होने लगी है। बीजेपी के मंत्री व विधायक जोर-शोर से दो बच्चों के कानून की पैरवी करने में जुट गए हैं। हालांकि, स्थिति ये है कि दूसरों को नसीहत देने वाली बीजेपी के खुद करीब 40 फीसदी विधायक ऐसे हैं जिनके 3 से लेकर 9 बच्चे हैं। इनमें वैश्य टॉप पर हैं। जबकि सीधी से उनके साथी विधायक केदारनाथ शुक्ल 8 बच्चों के साथ दूसरे स्थान पर जगह बनाए हुए हैं।