रेमडेसिविर इंजेक्शन मुझे दो, मैं जरूरतमंदों तक पहुंचाउंगा, कांग्रेस विधायक संजय शुक्ला की शिवराज सरकार से मांग

रेमेडेसिविर इंजेक्शन की कमी से जूझ रहे मरीज़ों को सुध लेने के लिए कांग्रेस विधायक पहुंचे मेडिकल स्टोर, गरीब मरीजों को फ्री में उपलब्ध कराएंगे इंजेक्शन

Updated: Apr 07, 2021, 01:05 PM IST

रेमडेसिविर इंजेक्शन मुझे दो, मैं जरूरतमंदों तक पहुंचाउंगा, कांग्रेस विधायक संजय शुक्ला की शिवराज सरकार से मांग

इंदौर। इंदौर रेमडेसिविर इंजेक्शन की किल्लत से जूझ रहा है। इसलिए कांग्रेस विधायक संजय शुक्ला ने राज्य सरकार से इंदौर के लिए 5000 रेमडेसिविर इंजेक्शन उपलब्ध कराने की मांग की है। उन्होंने कहा है कि यह इंजेक्शन सही कीमतों पर उन्हें उपलब्ध करा दिए जाएं। ताकि वे इंजेक्शन को जरूरतमंद मरीजों तक पहुंचा पाएं।

यह भी पढ़ें : इंदौर: मास्क न पहने हुए व्यक्ति को सिपाहियों ने बेरहमी से पीटा, गुंडागर्दी करने के लिए हुए सस्पेंड

दरअसल कोरोना के संक्रमित मरीजों के इलाज के लिए इंदौर में चिन्हित किए गए अस्पतालों में से सबसे प्रमुख सुपर स्पेशलिटी अस्पताल के दौर पर संजय शुक्ला निकले। इस दौरान अस्पताल के अधीक्षक सहित अस्पताल प्रबंधन के अधिकारी भी मौजूद थे। दौरे के दौरान कांग्रेस विधायक ने देखा कि अस्पताल में कई मरीज़ ऐसे हैं जो कि गंभीर हालत से गुजर रहे हैं। इन मरीजों को रेमडेसिविर इंजेक्शन की जरूरत है। लेकिन यह इंजेक्शन कालाबाजारी का शिकार है। वर्तमान समय में तो जरूरतमंद मरीजों को मुंह मांगी कीमत पर भी यह इंजेक्शन उपलब्ध नहीं हो पा रहा है।

कांग्रेस विधायक संजय शुक्ला ने अपने दौरे की जानकारी मीडिया को देते हुए कहा कि अस्पताल में इंजेक्शन की आवश्यकता की स्थिति को देखने और जानने के पश्चात वह खुद दवा बाजार में गए । वहां जाकर कई दुकानों पर इस इंजेक्शन की उपलब्धता के बारे में पूछा तो हर दुकानदार ने इंजेक्शन नहीं होने की जानकारी दी । इसके बाद शुक्ला कई प्रमुख मेडिकल स्टोर पर भी इंजेक्शन खरीदना गए लेकिन मेडिकल स्टोर पर भी इंजेक्शन उपलब्ध नहीं थे।

इस पूरे घटनाक्रम के बाद संजय शुक्ला के द्वारा प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और इंदौर के कलेक्टर मनीष सिंह को एक पत्र लिखा है । इस पत्र में कांग्रेस विधायक ने कहा है कि इंदौर में कोरोना से संक्रमित मरीजों के इलाज के लिए उन्हें 5000 रेमडेसिविर इंजेक्शन सही कीमत पर उपलब्ध कराया जाए। इस इंजेक्शन को वे जरूरतमंद मरीजों तक पहुंचाएंगे। जिन मरीजों की आर्थिक स्थिति कमज़ोर है उन्हें यह इंजेक्शन फ्री में दिया जाएगा और जो मरीज आर्थिक तौर पर संपन्न हैं उन्हें सरकार द्वारा इंजेक्शन दिए जाने वाले दाम पर ही यह इंजेक्शन उपलब्ध कराया जाएगा । 

यह भी पढ़ें : 1 दिन में कोरोना के 1.15 लाख मामले आए सामने, मंगलवार को भारत में कोरोना से तोड़े सारे रिकॉर्ड

 कांग्रेस विधायक ने कहा कि कोरोना के संक्रमण के शिकार हुए लोग अस्पताल में इस इंजेक्शन के लिए तड़प रहे हैं। डॉक्टर भी कह रहे हैं कि मरीज को इंजेक्शन तत्काल दिया जाना जरूरी है लेकिन उसके बाद भी इंजेक्शन उपलब्ध नहीं हो पा रहा है। ऐसे में इंदौर के प्रशासन और राज्य सरकार को पर्याप्त मात्रा में इंजेक्शन की उपलब्धता सुनिश्चित करानी चाहिए।