रिटायर्ड IAS वरद मूर्ति मिश्रा ने बनाई नई पार्टी, एमपी के सभी 230 सीटों पर चुनाव लड़ने का किया ऐलान

पूर्व आईएएस डॉ.वरद मूर्ति मिश्रा ने अपनी पार्टी का नाम वास्तविक भारत पार्टी रखा है, उन्होंने कहा कि प्रदेश में अब तीसरे मोर्चे की आवश्यकता है।

Updated: Nov 17, 2022, 03:14 PM IST

रिटायर्ड IAS वरद मूर्ति मिश्रा ने बनाई नई पार्टी, एमपी के सभी 230 सीटों पर चुनाव लड़ने का किया ऐलान

भोपाल। मध्य प्रदेश की सियासत में एक और राजनीतिक दल की एंट्री हो गई है। पूर्व IAS डॉ वरद मूर्ति मिश्रा ने नई पार्टी बना ली है। उन्होंने इसका नाम वास्तविक भारत पार्टी रखा है। मिश्रा ने राज्य के सभी 230 सीटों पर चुनाव लड़ने का भी ऐलान किया है।

प्रशासनिक सेवा से राजनीति में आए पूर्व आईएएस डॉ वरद मूर्ति मिश्रा ने कहा कि, 'प्रदेश में सरकार पर कर्ज लगातार बढ़ रहा है। शिक्षित युवा बेरोजगार काम न मिलने से प्रताड़ित हैं। करोड़ों रुपए से प्रदेश में सरकारी अस्पताल बन रहे हैं। आधे से अधिक मेडिकल स्टाफ और डॉक्टरों के पद खाली पड़े हैं। भाजपा-कांग्रेस के राजनेता केवल मुद्दों से भटकाकर सरकार में आना चाहते हैं। प्रदेश में अब तीसरे मोर्चे की आवश्यकता है।'

यह भी पढ़ें: भारत जोड़ो यात्रा एक तपस्या है, 35 सौ किमी पैदल चलना आसान नहीं: मध्य प्रदेश कांग्रेस प्रभारी

बता दें कि प्रमोटी IAS वरद मूर्ति ने 1 जून 2022 को इस्तीफा दे दिया था। उन्हें 17 जनवरी 2022 को आईएएस बनाया गया था। वे 7 साल बाद अगस्त 2029 में रिटायर होने वाले थे, लेकिन राजनीतिक महत्वाकांक्षा के कारण उन्होंने वीआरएस ले ली। इसके बाद से वे राजनीतिक जमीन तलाशने के लिए मध्य प्रदेश के जिलों में घूम रहे हैं। 

मिश्रा पिछली कमलनाथ सरकार में मुख्यमंत्री कार्यालय में बतौर उपसचिव पदस्थ थे। बाद में कमलनाथ ने उन्हें छिंदवाड़ा भेज दिया था। वहां से लौटने के बाद वह खनिज निगम में पदस्थ थे। वे पूर्व सीएम कमलनाथ के विश्वसनीय अधिकारी माने जाते थे। हालांकि, राजनीतिक दल बनाने के बाद उन्होंने आरोप लगाया कि 15 महीने की कमलनाथ सरकार भाजपा की ही राहों पर थी।

मिश्रा के करीबियों ने बताया कि 2023 के लिए उनका लक्ष्य मध्य प्रदेश कि 10 फीसदी सीटों पर चुनाव जीतने का है। वे चुनावी कैंपेन का रूप रेखा बनाने में जुटे हुए हैं। इसके लिए उन्होंने निजी पीआर कंपनी को भी हायर किया है। मिश्रा का यह प्रयास क्या रंग लाता है ये तो वक्त ही बताएगा।