बीजेपी की चुनाव समिति और कोर ग्रुप से प्रभात झा आउट, सिंधिया को मिली जगह

पंचायत चुनाव की घोषणा होते ही एक्शन में बीजेपी, चुनाव मैनेजमेंट दफ्तर खुला, कमेटी की पहली बैठक भी हुई, चुनाव समिति और कोर ग्रुप की भी घोषणा, सिंधिया के मुखर विरोधी रहे प्रभात झा को नहीं मिली जगह

Updated: May 28, 2022, 09:27 AM IST

बीजेपी की चुनाव समिति और कोर ग्रुप से प्रभात झा आउट, सिंधिया को मिली जगह

भोपाल। मध्य प्रदेश में पंचायत चुनाव का ऐलान होते ही बीजेपी एक्शन में आ गई है। सीएम शिवराज सिंह चौहान और प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा की मौजूदगी में शुक्रवार को चुनाव मैनेजमेंट दफ्तर का शुभारंभ किया गया। इसके साथ ही मैनेजमेंट कमेटी की बैठक भी हुई। शुक्रवार देर रात बीजेपी ने चुनाव समिति, कोर ग्रुप, आर्थिक समिति और अनुशासन समिति की भी घोषणा कर दी है।

इस बार चूंकि वीडी शर्मा प्रदेश अध्यक्ष हैं ऐसे में कमेटियों में बड़े स्तर पर फेरबदल भी किए गए हैं। केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया को चुनाव समिति और कोर ग्रुप में दोनों में जगह दी गई है। जबकि सिंधिया के विरोध में मुखर रहे वरिष्ठ नेता प्रभात झा को इन दोनों ग्रुप से आउट कर दिया गया है। बीजेपी ने पूर्व राज्यसभा सांसद को न चुनाव समिति में शामिल किया है और न ही कोर ग्रुप में जगह दी है। 

कोर ग्रुप में नरेंद्र सिंह तोमर, कैलाश विजयवर्गीय, नरोत्तम मिश्रा, जयभान सिंह पवैया और फग्गन सिंह कुलस्ते समेत 18 नेता शामिल हैं। इसमें शिव प्रकाश, मुरलीधर राव और पंकजा मुंडे को विशेष आमंत्रित सदस्य के रूप में शामिल किया गया है। उधर चुनाव समिति में भी अधिकांश नाम वही हैं। सीएम शिवराज के खास माने जाने वाले विधायक रामपाल सिंह को इलेक्शन कमेटी में जगह दी गई है। इसमें एसी-एसटी वर्ग के कोटे से भी दो नए नाम जोड़े गए हैं। 

रिपोर्ट्स के मुताबिक राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्‌डा 1 जून से तीन दिनों के मध्य प्रेदश दौरे पर रहेंगे। 1 जून को वे राजधानी भोपाल में रहेंगे। यहां वे नवगठित कोर ग्रुप और इलेक्शन कमेटी के सदस्यों के साथ बैठक करेंगे। प्रदेश बीजेपी ने आर्थिक समिति में चार लोगों को रखा है। इनमें अखिलेश जैन, अनिल जैन, हेमंत खंडेलवाल और भगवान दास सबनानी का नाम शामिल है। जबकि अनुशासन समिति में महज तीन मेंबर्स हैं। इनमें वेदप्रकाश शर्मा, देवीलाल धाकड़ और जगदीश अग्रवाल शामिल हैं।