सर्राफ़ा कारोबारी के बेटे की सड़क किनारे मिली लाश, अपहरण के बाद हत्या का शक

परिजनों को शक है कि सूदखोर कृष्णा मालवीय नाम के व्यक्ति ने की हत्या, पुलिस का जल्द केस सुलझाने का दावा

Updated: Mar 28, 2021, 03:48 PM IST

सर्राफ़ा कारोबारी के बेटे की सड़क किनारे मिली लाश, अपहरण के बाद हत्या का शक
Photo courtesy: nai dunia

इंदौर। मध्यप्रदेश की आर्थिक नगरी इंदौर में सर्राफा व्यापारी के बेटे का अपहरण कर उसकी हत्या कर दी गयी है। बताया जा रहा है पैसों के लेन-देन को लेकर सर्राफा व्यापारी के बेटे, अरविंद सोनी का अपहरण किया गया और फ़िर हत्या कर दी गई। मामला सूदखोरी के जंजाल में फंसे व्यापारी से जुड़ता दिख रहा है।  

कहानी कुछ यूं है कि सर्राफा व्यापारी का बेटा अरविंद सोनी ने सूदखोर कृष्णा मालवीय नामक युवक से सूद पर पैसे लिए थे। कृष्णा मालवीय और उसके बीच पैसों को लेकर कुछ दिनों से तनातनी चल रही थी। मीडिया रिपोर्ट्स के हवाले से खबर है कि शनिवार देर शाम आरोपी कृष्णा मालवीय ने सोनी का अपहरण कर लिया और पीट-पीट कर उसकी हत्या कर दी।

रविवार तड़के इंदौर ज़िले के सनवदियां गांव में सर्राफा व्यापारी के बेटे अरविंद सोनी (39) की लाश सड़क किनारे बरामद हुई। अपहरण के दौरान अरविंद सोनी ने किसी अन्य व्यक्ति के नम्बर से फ़ोन कर अपनी पत्नी को इस बात की सूचना दी थी। फोन पर पत्नी को बताया था कि सूदखोर कृष्णा मालवीय ने उसका अपहरण कर लिया है। इसके साथ ही लोकेशन भी पत्नी को भेजा था। जिसके बाद अरविंद सोनी की पत्नी ने घटना की जानकारी पुलिस को दी।

परिजनों ने पुलिस पर आरोप लगाया है कि अगर पुलिस समय पर तत्परता दिखाती तो अरविंद की जान बच सकती थी। लेक़िन पुलिस इन सभी आरोपों को खारिज कर रही है। पुलिस का कहना है कि परिजनों की शिकायत पर हमने केस दर्ज कर लिया था। परिजनो द्वारा दिये गए मोबाइल नम्बर पर अरविंद से बात की गई थी। अरविंद सोनी का कहना था वह शहर से बाहर है और शाम तक घर वापस लौट आएंगे । लेक़िन अगली सुबह अरविंद की लाश बरामद हुई। शव को बरामद कर पोस्टमार्टम के लिए ज़िला अस्पताल भेज दिया है। पुलिस आरोपियों की तलाश कर रही है।