9 साल 9 सवाल के नाम से कांग्रेस ने जारी किया दस्तावेज़, पूछा मोदी जी कब तोड़ेंगे अपनी चुप्पी

मोदी सरकार को देश की सत्ता में आए आज 9 साल पूरे हो गए हैं। सरकार इस मौके पर अपना पीठ थपथपा रही है। वहीं कांग्रेस की तरफ से सरकार की नाकामियों को उजागर किया जा रहा है।

Updated: May 26, 2023, 03:55 PM IST

9 साल 9 सवाल के नाम से कांग्रेस ने जारी किया दस्तावेज़, पूछा मोदी जी कब तोड़ेंगे अपनी चुप्पी

नई दिल्ली। पीएम नरेंद्र मोदी की अगुवाई में एनडीए सरकार को देश की सत्ता में आए आज 9 साल पूरे हो गए हैं। केंद्र सरकार इस मौके पर अपना पीठ थपथपा रही है और 9 सालों की उपलब्धियां बता रही है। वहीं कांग्रेस की तरफ से सरकार की नाकामियों को उजागर किया जा रहा है। कांग्रेस के अधिकारिक ट्विटर हैंडल से एक ट्विट किया गया है जिसमें मोदी सरकार की नाकामियों का जिक्र है। बेरोजगारी से लेकर मंहगाई के मुद्दे पर सरकार को घेरने की कोशिश की गई है।

कांग्रेस की तरफ से किए गए ट्वीट में लिखा गया है कि, "आज मोदी सरकार को 9 साल हो गए। ये ‘नाकामी के 9 साल’ हैं। देश की बदहाली के 9 साल हैं। इन 9 वर्षों में लोगों को महंगाई, बेरोजगारी और तानाशाही फैसलों की मार झेलनी पड़ी। जुमलों के दम पर सत्ता में आई मोदी सरकार ने अपना एक भी वादा पूरा नहीं किया। बस तारीख पर तारीख देते रहे। जैसे- 2022 तक किसानों की आय दोगुनी करने का वादा, 2022 तक सबको घर देने का वादा, कालाधन लाकर 15 लाख देने का वादा, हर साल 2 करोड़ नौकरी का वादा…ये तो बानगी भर है, इनके जुमले गिनने बैठें तो गिनते हुए कई दिन बीत जाएं।"

कांग्रेस ने ट्वीट में आगे लिखा, "PM मोदी ने अपने वादे तो पूरे नहीं किए, इसके उलट अपनी नासमझी से देश को आफत में डाल दिया। नोटबंदी ने अर्थव्यवस्था चौपट कर दी, बैंक की लाइनों में लोगों की मौत हुई। कौन भूल सकता है उस भयावह मंजर को। गब्बर सिंह टैक्स (GST) से व्यापारी तबाह हैं। आए दिन इसका विरोध होता है, लेकिन सुनने वाला मोर को दाने देने में व्यस्त रहे तो लोग क्या करें। अग्निवीर के फैसले ने युवाओं के सपनों को कुचल दिया। जब वो विरोध में उतरे तो उन्हें धमकाया गया कि उनका भविष्य चौपट कर दिया जाएगा। हां.. धमकाया गया। मोदी सरकार जनता को डराकर-धमकाकर, सत्ता को खरीदकर, मित्र को सब बेचकर... मौज करने के फार्मूले पर चल रही है।"

ट्वीट में यह भी लिखा गया है कि, "कोई आवाज़ उठाए उसे दबा दो, कुचल दो, जेल में ठूंस दो, बुलडोजर चला दो। ED, CBI का डर दिखाओ। कहीं सरकार न बने तो पैसे के दम पर सत्ता खरीद लो और लोकतंत्र की हत्या कर दो। देश के पोर्ट, एयरपोर्ट, बड़े प्रोजेक्ट 'मित्र' को बेच दो... और आराम से 'मित्र काल' में महंगा मशरूम खाते रहो, फोटो खिंचाते रहो। इस सरकार में मीडिया का रोल भी अहम है। सुबह से शाम तक प्रोपेगेंडा चलता है। महामानव की फर्जी छवि गढ़ी जाती है और आखिर में महामानव 'लाल शर्ट' पहनकर चीन को रिझाते देखे जाते हैं।"

कांग्रेस ने आगे लिखा कि, "याद ही होगा... चीन को लाल आंख दिखाने की बात हुई थी। आखिर में मामला लाल शर्ट तक पहुंच गया। आज चीन हमारी जमीन पर हमें ही पेट्रोलिंग से रोक रहा है। हमारे जांबाज जवानों ने इसके लिए शहादत भी दी और आखिर में 'महामानव' लाल शर्ट पहनकर चीन को रिझाने में लग गए। ये है इनकी कायरता। इनकी नाकामी की बातें बहुत हैं, इतनी की कई किताबें लिख दी जाए लेकिन तब भी बहुत सी बातें छूट जाएंगी।"

कांग्रेस ने आखिर में कहा कि, "ये 'नाकामी के 9 साल' हैं। अब जनता इनसे ऊब चुकी है। कर्नाटक का चुनाव इसका सबूत है, जहां जनता ने सीधे तौर पर PM मोदी और उनकी भ्रष्ट सरकार को नकार दिया। ये असंतोष की लहर दक्षिण से चली है जो पूरे देश को ख़ुद में समेट लेगी। जनता इंतजार में है और करारा जवाब देगी।"